--Advertisement--

दुबई से खिलौना ले घर आए पिता, पता चला 1 दिन पहले ही हो गई बेटे की मौत

हरियाणा के कुरुक्षेत्र के सिरसला गांव के बलजिंद्र दो साल बाद बुधवार देर रात अपने वतन लौटे।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 01:06 AM IST
बुधवार रात पिता जब घर पहुंचा तो बेटे के मौत की खबर सुनकर वह चीख उठा। बुधवार रात पिता जब घर पहुंचा तो बेटे के मौत की खबर सुनकर वह चीख उठा।

कुरुक्षेत्र. सिरसला गांव के बलजिंद्र दो साल बाद बुधवार देर रात अपने वतन लौटे। दुबई से उनका 20 दिसंबर को लौटना था। हंसी खुशी वह अपने वतन व परिवार के पास आने के लिए दुबई से रवाना हुआ था। बेटे अरमान और बेटी वंशिका और अन्य घरवालों के लिए कई गिफ्ट भी खरीदे थे, लेकिन उसे अहसास तक नहीं था कि जिस बेटे के लिए वह गिफ्ट लेकर आ रहा है। वह प्यारा बेटा अरमान अब इस दुनिया में नहीं रहा। बेटे की मौत की खबर सुन पिता की निकली चीखें...

- रात को करीब साढ़े आठ बजे बलजिंद्र गांव सिरसला पहुंचा। घर में रिश्तेदारों और गांव वालों की भीड़ देख माथा ठनका। आते ही रिश्तेदारों ने उसे संभालने की कोशिश की। जैसे ही उसे बताया कि उसका मासूम बेटा अरमान अब दुनिया में नहीं रहा तो उसकी चीखें निकल गई। गहरे दुख में पूरा माहौल बदल गया।

- बलजिंद्र के साले पवन ने बताया कि उसे दुबई से बुधवार को ही लौटना था। इसी बीच मंगलवार को यह हादसा हो गया।

- पूरा परिवार पहले बलजिंद्र घर लौटने की आस में था। यह हादसा होने की सूचना बलजिंद्र को जानबूझ कर नहीं दी। यहां लौटने के बाद ही उसे बताया गया कि अरमान की मंगलवार को मौत हो गई।

- वहीं देर रात यह भी चर्चा चली की पुलिस ने स्कूल मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि दिन में ड्राइवर को छोड़कर अन्य किसी की गिरफ्तारी न होने की बात पुलिस करती रही।

फैमिली ने जताया विरोध
- बुधवार को शव का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद घरवाले एंबुलेंस में शव के साथ थाने पहुंचे। उन्होंने कहा कि आरोपी ड्राइवर को तुरंत गिरफ्तार किया जाए। साथ ही यदि स्कूल की लापरवाही है तो उस पर भी कार्रवाई हो।

- कांग्रेस के पूर्व डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट विशाल सिंगला की अगुवाई में गांव वाले एसएचओ सुरेंद्र सिंह व डीएसपी गुरमेल सिंह से मिले।

- अनिल भुक्कल, अजय शर्मा, सरपंच सिरसला जितेंद्र, सुच्चा सिंह ने कहा कि नियमों की अनदेखी की वजह से यह हादसा हुआ। लिहाजा इसमें स्कूल मैनेजमेंट की जिम्मेदारी भी तय होनी चाहिए। जब तक कार्रवाई नहीं होती, शव का संस्कार नहीं करेंगे।

ड्राइवर को किया गिरफ्तार
- डीएसपी गुरमेल सिंह ने फैमिलीवालों व गांववालों को आश्वासन दिया कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होगी।

- ड्राइवर को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। उक्त स्कूल दलबीर सिंह नाम के व्यक्ति की बिल्डिंग में चल रहा है। जिसके मालिक महेंद्र सिंह है। चालक की गिरफ्तारी के बाद ही परिजन संस्कार के लिए राजी हुए।


मैनेजमेंट की नहीं गलती : संचालक
स्कूल मालिक महिंद्र सिंह का कहना है कि इसमें मैनेजमेंट की कोई लापरवाही नहीं है। चालक की लापरवाही से यह हादसा हुआ है। उस पर कार्रवाई होनी चाहिए। स्कूल प्रबंधन पूरी तरह से पीड़ित परिवार के साथ है।

अरमान बलजिंद्र का इकलौता लड़का था। अरमान बलजिंद्र का इकलौता लड़का था।
घरवालों ने आरोपी ड्राइवर के गिरफ्तारी की मांग की। घरवालों ने आरोपी ड्राइवर के गिरफ्तारी की मांग की।
बलजिंद्र का मासूम बेटा अरमान की मौत के बाद फैमिली गहरे दुख में डूब गई। बलजिंद्र का मासूम बेटा अरमान की मौत के बाद फैमिली गहरे दुख में डूब गई।