अम्बाला

--Advertisement--

सुसाइड नोट में लिखा- साहब तीनों करते हैं परेशान, पेड़ से लटकी मिली डेडबॉडी

सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव को पेड़ से उतारा। मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट भी मिला।

Dainik Bhaskar

Jan 28, 2018, 02:40 AM IST
मृतक की शिनाख्त गांव सम्भालखा के करीब 46 साल की मोहनलाल के तौर पर हुई। मृतक मोहन लाल के पर्स से नोट पुलिस को मिला है। मृतक की शिनाख्त गांव सम्भालखा के करीब 46 साल की मोहनलाल के तौर पर हुई। मृतक मोहन लाल के पर्स से नोट पुलिस को मिला है।

लाडवा( कुरुक्षेत्र). लाडवा-रादौर रोड पर स्थित बाग में पेड़ पर एक फ्रूट सेलर का शव फंदे से लटका मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव को पेड़ से उतारा। मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट भी मिला। माना जा रहा है उसने फाइनेंसर्स से तंग आकर यह कदम उठाया है। सुसाइड नोट में भी तीन लोगों के नाम लिखे हैं। सूचना पर सीन ऑफ क्राइम टीम भी मौके पर पहुंची। लिखा साहब तीनों करते हैं परेशान इसलिए उठा रहा हूं कदम ...

- मृतक की शिनाख्त गांव सम्भालखा के करीब 46 साल की मोहनलाल के तौर पर हुई। मृतक मोहन लाल के पर्स से नोट पुलिस को मिला है।
- इसमें लाडवा थाना इंचार्ज को संबोधित करते हुए अपनी मौत के लिए तीन फाइनेंसरों को जिम्मेदार बताया।
- उसने सुसाइड नोट में लिखा कि उसने तीन फाइनेंसरों से दस-दस हजार रुपए ब्याज पर लिए थे। तीनों ने उसे दो-दो हजार रुपए एडवांस में ब्याज रूप में काट लिए।
- उसे आठ-आठ हजार रुपए ही दिए थे। उसे 100 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से तीनों को पैसे वापस लौटाने थे। उक्त फाइनेंसरों ने दो-दो खाली चेक सिग्नेचर करवाकर उससे लिए थे।
- रोजाना उक्त तीनों उसके पास किश्त लेने आते थे। रोजाना पैसा देने के बावजूद वे उसे टॉर्चर करते। उसे अपमानित किया जाता। जिससे परेशान होकर यह कदम उठा रहा है।


बेटे ने भी लगाए आरोप पैसे के लिए धमका रहे
- मोहनलाल के बेटे विजय कुमार ने पुलिस के समक्ष यही आरोप लगाए। बताया कि उक्त तीनों काफी समय से उसके पिता को पैसे के लिए धमका रहे थे।

- उनके साथ दुर्व्यवहार किया जाता था। जिसके कारण उसके पिता मानसिक रूप से परेशान रहने लगे थे। इसी मानसिक प्रताड़ना से तंग आकर उन्होंने यह कदम उठाया।

सुबह निकला था घर से
- मोहनलाल बाजार में फलों की व्यापार करता था। घर से शनिवार सुबह वह निकला। घरवालों ने यही सोचा कि शायद रेहड़ी लगाने गए होंगे।

- शनिवार दोपहर बाद पुलिस को किसी ने उसका शव बाग में पेड़ पर लटके होने की सूचना दी। इसके बाद परिजनों को सूचित किया।


तीन के खिलाफ किया केस दर्ज
- लाडवा थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह का कहना है कि मृतक की जेब में पर्स से एक नोट बरामद हुआ है। युवक ने तौलियों से फंदा लगाया था।

- नोट में तीन फाइनेंसरों के नाम व मोबाइल नंबर लिखे मिले साथ ही मौत के लिए उकसाने के लिए जिम्मेदार बताया गया है। लेकिन मृतक के पास से मोबाइल बरामद नहीं हुआ। उसकी जेब से सिम कार्ड भी मिला है।

- मृतक के बेटे के बयान व नोट के आधार पर छलौंदी वासी जेलदार, सन्नी सरदार व अशोक पंडित नाम के तीन लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज किया है। हालांकि अभी सुसाइड नोट की भी जांच कराई जाएगी।

मोहनलाल बाजार में फलों का व्यापार करता था। घर से शनिवार सुबह वह निकला। मोहनलाल बाजार में फलों का व्यापार करता था। घर से शनिवार सुबह वह निकला।
शनिवार दोपहर बाद पुलिस को किसी ने उसका शव बाग में पेड़ पर लटके होने की सूचना दी। शनिवार दोपहर बाद पुलिस को किसी ने उसका शव बाग में पेड़ पर लटके होने की सूचना दी।
युवक ने तौलियों से फंदा लगाया था। युवक ने तौलियों से फंदा लगाया था।
X
मृतक की शिनाख्त गांव सम्भालखा के करीब 46 साल की मोहनलाल के तौर पर हुई। मृतक मोहन लाल के पर्स से नोट पुलिस को मिला है।मृतक की शिनाख्त गांव सम्भालखा के करीब 46 साल की मोहनलाल के तौर पर हुई। मृतक मोहन लाल के पर्स से नोट पुलिस को मिला है।
मोहनलाल बाजार में फलों का व्यापार करता था। घर से शनिवार सुबह वह निकला।मोहनलाल बाजार में फलों का व्यापार करता था। घर से शनिवार सुबह वह निकला।
शनिवार दोपहर बाद पुलिस को किसी ने उसका शव बाग में पेड़ पर लटके होने की सूचना दी।शनिवार दोपहर बाद पुलिस को किसी ने उसका शव बाग में पेड़ पर लटके होने की सूचना दी।
युवक ने तौलियों से फंदा लगाया था।युवक ने तौलियों से फंदा लगाया था।
Click to listen..