--Advertisement--

महिला ने देखी थी पुलिस वाले की करतूत, अब बयान बदल बोल रही ऐसी बात

सिविल हॉस्पिटल में मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई।

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 02:11 AM IST
मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई। मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई।

यमुनानगर. सिविल हॉस्पिटल में मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई। पुलिस जब गधौली में फरीदा के बयान दर्ज करने गई तो उसने कहा कि उसने वहां पर कुछ नहीं देखा था। बहकावे में आकर उसने रेप की बात कही थी। उधर, पुलिस ने विक्टिम से भी जानकारी जुटानी चाही, लेकिन वह सवालों के सही से जवाब नहीं दे पाई। उसने जो देखा वो बताया, जब सभी मुकर गए तो मैं क्या करती ....

- फरीदा ने दूसरे दिन पुलिस को दिए अपने बयानों में कहा कि रात को वार्ड में कुछ नहीं देखा। भास्कर रिपोर्टर ने भी फरीदा से बयानों से पलटने की वजह जानने के लिए घर जाकर उससे बात की। तब महिला ने बताया कि उसने जो देखा था पहले दिन वह बताया था, लेकिन वार्ड में मौजूद लोगों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ।

- वह अकेली एक तरफ हो गई और पूरा वार्ड एक तरफ हो गया तो उसने सोचा कि वह किसी से रंजिश क्यों पाले। इसलिए उसने गुरुवार को पुलिस को अपने बयान में कहा कि उस रात उसने वहां पर कुछ नहीं देखा।

पक्ष में दिए बयान को पुलिस ने माना सच
- पुलिस ने इस मामले में वार्ड में भर्ती बंदी राजीव शर्मा (एनडीपीएस एक्ट में आरोपी, टांग में फेक्चर), उसकी पत्नी (उस रात देखरेख के लिए वहीं पर थी) के बयान लिए।

- दोनों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ। वहीं दूसरे बंदी पंजाब के मुकंद सिंह (गुरमीत राम रहीम को सजा के बाद हुए दंगों में शामिल) और उसका बेटे ने भी पुलिस कर्मी के हक में बयान देते हुए कहा कि उन्होंने यहां पर कोई गलत काम होते नहीं देखा।

- इसके साथ ही उस रात ड्यूटी पर तैनात दूसरे पुलिस कर्मी हरबिलास ने भी ये ही कहा। महिला वार्ड में तैनात स्टाफ सदस्यों ने भी ये ही कहा कि उन्होंने महिला के साथ गलत काम होते नहीं देखा।


महिला की सुरक्षा बढ़ाई, गार्ड भी बदलीं

- इस घटना के बाद भी विक्टिम मंदबुद्धि महिला को दूसरे वार्ड में शिफ्ट नहीं किया गया। हालांकि प्रशासन की तरफ से उसकी सुरक्षा में दो महिला पुलिस कर्मी तैनात गई हैं।

- वहीं कैदी वार्ड में तैनात पुलिस कर्मियों को भी बदल दिया गया। नए पुलिस कर्मी वहां पर लगाए गए हैं।

स्टाफ कर्मी बोले- उस समय कोई बिजली कट नहीं लगा

- यमुनानगर सीएमओ डॉ. कुलदीप सिंह स्टाफ कर्मियों ने अस्पताल प्रशासन की उस दलील को खारिज कर दिया है कि वारदात की रात अस्पताल में इलेक्ट्रिसिटी वर्क हो रहा था।

- उन्होंने कहा कि वर्क की वजह से लाइट भी नहीं गई थी।

- उधर, आईटी एक्सपर्ट मनोज कुमार ने कहा कि अगर सीसीटीवी कैमरे से कोई फुटेज डिलीट की गई है तो उसे डीवीआर के जरिए रिकवर किया जा सकता है।

- महिला के मेडिकल के लिए बोर्ड की जांच में रेप की पुष्टि नहीं हुई है। गहनता से जांच के लिए सैंपल लैब में भेजे हैं। वहां से रिपोर्ट आने में एक हफ्ते का समय लगेगा।
- डीएसपी हेड क्वार्टर अनिल कुमार सीसीटीवी की डीवीआर को कब्जे में लिया जाएगा। हर पहलू पर हम जांच कर रहे हैं।

मेरे ऊपर गलत आरोप लगाए
- आरोपी पुलिस कर्मी खुद को बेगुनाह बता रहा है।

- उसने बताया कि मै उस रात मैं जैसे ही कमरे से बाहर निकाला तो मंदबुद्धि महिला रोटी मांग रही थी। मैंने उसे रोटी दी और अपने कमरे में आ गया। मैंने उसके साथ कोई गलत काम नहीं किया। मैं हर जांच के लिए तैयार हूं।

आरोप है कि महिला से पुलिसकर्मी ने रेप किया था। आरोप है कि महिला से पुलिसकर्मी ने रेप किया था।
दूसरे दिन पुलिस को दिए अपने बयानों में कहा कि रात को वार्ड में कुछ नहीं देखा। दूसरे दिन पुलिस को दिए अपने बयानों में कहा कि रात को वार्ड में कुछ नहीं देखा।
हिला ने बताया कि उसने जो देखा था पहले दिन वह बताया था, लेकिन वार्ड में मौजूद लोगों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ। हिला ने बताया कि उसने जो देखा था पहले दिन वह बताया था, लेकिन वार्ड में मौजूद लोगों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ।
गुरुवार को पुलिस को अपने बयान में कहा कि उस रात उसने वहां पर कुछ नहीं देखा। गुरुवार को पुलिस को अपने बयान में कहा कि उस रात उसने वहां पर कुछ नहीं देखा।
घटना के बाद भी विक्टिम मंदबुद्धि महिला को दूसरे वार्ड में शिफ्ट नहीं किया गया। घटना के बाद भी विक्टिम मंदबुद्धि महिला को दूसरे वार्ड में शिफ्ट नहीं किया गया।
X
मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई।मंदबुद्धि महिला से रेप होने का खुलासा करने वाली फरीदा दूसरे दिन ही बयान से पलट गई।
आरोप है कि महिला से पुलिसकर्मी ने रेप किया था।आरोप है कि महिला से पुलिसकर्मी ने रेप किया था।
दूसरे दिन पुलिस को दिए अपने बयानों में कहा कि रात को वार्ड में कुछ नहीं देखा।दूसरे दिन पुलिस को दिए अपने बयानों में कहा कि रात को वार्ड में कुछ नहीं देखा।
हिला ने बताया कि उसने जो देखा था पहले दिन वह बताया था, लेकिन वार्ड में मौजूद लोगों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ।हिला ने बताया कि उसने जो देखा था पहले दिन वह बताया था, लेकिन वार्ड में मौजूद लोगों ने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं हुआ।
गुरुवार को पुलिस को अपने बयान में कहा कि उस रात उसने वहां पर कुछ नहीं देखा।गुरुवार को पुलिस को अपने बयान में कहा कि उस रात उसने वहां पर कुछ नहीं देखा।
घटना के बाद भी विक्टिम मंदबुद्धि महिला को दूसरे वार्ड में शिफ्ट नहीं किया गया।घटना के बाद भी विक्टिम मंदबुद्धि महिला को दूसरे वार्ड में शिफ्ट नहीं किया गया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..