--Advertisement--

गोद लेने के बाद बच्ची से मंगवाते रहे भीख, बच्ची बोली - बाबा करता है उससे छेड़छाड़

खुलासा किया कि उसके साथ एक बाबा छेड़छाड़ भी करता है और उसके पिता उससे शराब पीकर मारपीट करते हैं।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 07:51 AM IST

अंबाला। बचपन से ही गोद लेने के बाद एक परिवार उससे भीख मंगवाता रहा। जब यह बात चाइल्ड लाइन तक पहुंची तो मनमोहन नगर से बच्ची का रेस्क्यू करवाया गया। बाद में बच्ची ने खुलासा किया कि उसके साथ एक बाबा छेड़छाड़ भी करता है और उसके पिता उससे शराब पीकर मारपीट करते हैं। लिहाजा चाइल्ड लाइन के बाद बच्ची की सीडब्ल्यूसी ने काउंसलिंग की। तब मामले को एफआईआर के लिए पुलिस स्टेशन भेजा गया। अभी पुलिस मामले की जांच कर रही है।


दरअसल, शुक्रवार को सिटी मनमोहन नगर में रहने वाली 11 साल की बच्ची को चाइल्ड लाइन की टीम ने रिकवर किया। प्राथमिक जांच में पाया गया कि बच्ची से भीख मंगवाने का काम करवाया जाता है। अधिक जानकारी जुटाने पर पता चला कि यह बच्ची अनाथ है और उससे एक रिक्शा चालक भीख मंगवाता है। यह शिकायत भी इलाके के रहने वाले बाबा गोबिंद दास ने दी थी। बाबा का कहना था कि उसने यह बच्ची कई साल पहले सुखदेव राम नाम के एक व्यक्ति को गोद दिलवाई थी मगर बाद में उसकी मौत हो गई। अब यह बच्ची रविंद्र पाल के पास रह रही थी जो उससे भीख मंगवाता है। मगर टीम के पूछताछ करने पर बच्ची ने बताया कि बाबा उससे छेड़छाड़ करता है और उसके मुंहबोले पिता उसे शराब पीकर मारते हैं।


जांच में खुलेंगी कई परतें: लिहाजा कुछ सच सामने आने के बाद चाइल्ड लाइन बच्ची को साथ लेकर आ गई। तब इसकी रिपोर्ट बनाकर सीडब्ल्यूसी के पास सौंपी गई। शुक्रवार को सीडब्ल्यूसी के अधिकारियों ने मीटिंग करके बच्ची की बातचीत को रिकॉर्ड पर लिया। साथ ही उसे पुलिस कार्रवाई के लिए आगे भेजा।

प्रॉपर्टी से जुड़ा मामला
पता चला है कि यह मामला बच्ची के नाम प्राॅपर्टी से भी जुड़ा है जिसे उसे पालने वाला रविंद्र व बाबा हथियाना चाहता है। सुखदेव को यह बच्ची बाबा ने ही गोद दिलवाई थी जिससे कानूनन गोद लिया गया था, लेकिन सुखदेव की कुछ साल पहले मौत हो गई थी। बाद से रविंद्र बच्ची को पाल रहा था। अब बच्ची बड़ी हो गई है तो इसलिए उसकी प्रॉपर्टी पर कुछ लोग अपनी दावेदारी ठोक रहे हैं। बाबा ने उन्हें मामले में साजिश के तहत फंसाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि वह संत हैं और बच्ची उनकी बेटी है।