--Advertisement--

बहू को IAS बनाने के लिए सास कर रही ये काम, बेटे ने की है 10वीं तक पढ़ाई

कौलेखां गांव में सास अपनी बहू को दिहाड़ी कर आईएएस बनाने के लिए स्ट्रगल कर रही है।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 10:00 PM IST

कलायत (हरियाणा). कौलेखां गांव में सास अपनी बहू को दिहाड़ी कर आईएएस बनाने के लिए स्ट्रगल कर रही है। 60 साल की प्रकाशो देवी मकानों में पेंट का काम करने वाले अपने बेटे दलजीत सिंह के साथ मजदूरी से पाई-पाई जोड़कर बहू को बड़ी अफसर बनाने का सपना साकार करने में लगी है। पति के मात्र 10वीं पास होने के बावजूद बहू लज्जा मेहरा एमटेक, पॉलीटेक्निकल के साथ-साथ अन्य सब्जेक्ट्स में हायर एजुकेशन हासिल कर चुकी हैं।

देर रात तक पढ़ाई के बाद बटाती सास के कामों में हाथ

- डाक्टरेट की उपाधि हासिल करने के लिए भी वह दिन-रात एक किए है। देर-रात तक पढ़ाई करना और अल सुबह उठकर घरेलू कामों में सास का हाथ बंटाते हुए निर्धारित समय पर ट्रेनिंग के लिए नरवाना जाती है।

- 26 साल की लज्जा ने बताया कि 18 जून 2017 को वह यूपीएससी पार्ट-1 और 2 दो की एग्जाम दे चुकी है। जल्द फाइनल एग्जाम के रोल नंबर जारी होंगे। बचपन से उसका सपना अच्छी एजुकेशन हासिल कर आईएएस अधिकारी बनने का रहा है।

- मायके में पिता रूप चंद ने इससे पूरा करने के लिए भरसक प्रयास किया। मजदूर परिवार में शादी होने के बाद उसे यह अनुमान नहीं था कि चूल्हा -चौका से बाहर निकल पाएगी। अनपढ़ होने के बाद भी सास उसका सहयोग कर रही है।


व्यवहारिक ज्ञान के बिना पढ़ाई अधूरी

हायर एजुकेशन हासिल कर रही लज्जा का कहना है कि यह गलत धारणा है कि पढ़ाई के लिए घरेलू और अन्य काम पूरी तरह छाेड़ने पढ़ते हैं। कामकाज करते हुए भी मंजिल को हासिल किया जा सकता है।