--Advertisement--

लेडी प्रिंसिपल के हत्यारे ने चुराई थी पिता की रिवॉल्वर, बुलेट लेकर आता था स्कूल

चार गोलियां मारकर हत्या करने का आरोपी स्टूडेंट शिवांश पहले भी रिवॉल्वर लेकर स्कूल में आ चुका है।

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2018, 03:00 AM IST
आरोपी 12 वीं क्लास का स्टूडेंट है। शनिवार को स्कूल में उसने अपने प्रिसिपल की चार गोली मारकर हत्या कर दी। आरोपी 12 वीं क्लास का स्टूडेंट है। शनिवार को स्कूल में उसने अपने प्रिसिपल की चार गोली मारकर हत्या कर दी।

यमुनानगर.स्वामी विवेकानंद स्कूल में 12वीं के स्टूडेंट ने महिला प्रिंसिपल को गोली मार दी। जख्मी प्रिंसिपल की करीब 2 घंटे बाद इलाज के दौरान मौत हो गई। आरोपी स्टूडेंट को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। वारदात के बाद आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। आरोपी शिवांश गुंबर ने बताया कि उसे नहीं पता कितनी गोलियां चलीं मैं ट्रिगर दबाता रहा। आरोपी ने बताई हत्या की ये वजह....

- हत्या की वजह पूछे जाने पर उसने बताया कि स्कूल में बात-बात पर टॉर्चर किया जा रहा था। पापा ने बुलेट लेकर दी है तो मैं स्कूल में इसी पर आता था।

- प्रिंसिपल उल्टा-सीधा बोलतीं थीं। धमकी दे रही थीं कि बोर्ड एग्जाम के लिए रोल नंबर नहीं देंगी। क्लास अटेंड न करने पर चेतावनी दी गई थी।

- डर था कि मीटिंग में प्रिंसिपल मेरे पेरेंट्स को शिकायत करेंगी। इससे गुस्से में आकर प्रिंसिपल की हत्या की सोची।

हफ्ते भर पहले प्रिंसिपल ने लगाई थी डांट...

- उधर, प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा की हत्या की घटना के बाद सामने आया है कि हत्यारोपी स्टूडेंट शिवांश को उसके पिता ने बुलेट बाइक दी हुई थी।

- वह अक्सर बाइक पर स्कूल जाता था। स्कूल के आस- पास बेवजह चक्कर लगाता था। इसी बात को लेकर प्रिंसिपल उसे डांटती थी।

टीचर्स कई बार कर चुके हैं आरोपी की कम्पलेन

- टीचर्स का कहना है कि कई बार उसके परिवारवालों को भी यह बात बताई गई, लेकिन फैमिली वालों ने शायद इस बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया। शनिवार को भी शिवांश घर से बुलेट बाइक लेकर निकला था।

- पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने बुलेट एमएलएन कॉलेज के पास खड़ी की। वहां से वह पैदल स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल पर गया। मौका लगते ही वह स्कूल में एंट्री कर सीधे प्रिंसिपल के रूम में चला गया और वहां पर जाकर गोलियां दागी।

17 साल से स्कूल में टीचर, दो साल पहले ही प्रिंसिपल प्रमोट हुई थीं रितू

- प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा 17 साल से इस स्कूल में टीचर थीं। दो साल पहले ही वह इस विंग में प्रिंसिपल प्रमोट हुईं।

- आरोपी 12वीं कॉमर्स विद इकॉनोमिक्स का स्टूडेंट है। प्रिंसिपल रीतू इकॉनोमिक्स की क्लास लेतीं थी।

- उनके दो बेटे हैं। बड़ा बेटा कोलकाता में जॉब करता है और छोटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहा है।

- पति राजेश छाबड़ा चाऊमीन सप्लाई करते हैं। कोलकाता से बड़ा बेटे रितेश के आने के बाद रविवार को संस्कार होगा। मां प्रोमिला का कहना है कि रितू गर्वनमेंट कॉलेज लुधियाना से पढ़ी हैं।

मौत का कारण : फेफड़े में फंसी गोली

- सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया।

- यहां पर करीब 30 मिनट तक उनका इलाज डॉक्टर करते रहे। 30 मिनट बाद उनकी मौत हो गई।

- डॉक्टर्स के अनुसार प्रिंसिपल की छाती में गोलियां लगी थी। एक गोली उनके फेफड़े में फंस गई जोकि मौत की वजह बनी।

रोज 11 बजे फोन करती थींः पति राजेश

- पति राजेश ने बताया कि हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया।

- इसी दौरान स्कूल से फोन आया कि रितू को चोट लगी है। वे स्कूल पहुंचे। उन्हें विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया है।

- यहां पर पता चला कि एक स्टूडेंट ने गोली मारी है। इमरजेंसी वार्ड में उनकी पत्नी ने दम तोड़ दिया।

स्कूल में बाइक न लाने को भी कहा था

- स्कूल टीचर्स के अनुसार 11.30 बजे पीटीएम शुरू हुई। हत्यारोपी स्टूडेंट के परिवारवाले अभी पीटीएम में नहीं पहुंचे थे।

- स्कूल स्टाफ के अनुसार स्टूडेंट के पैरेंट्स पहले पीटीएम में आते रहे हैं। वह अक्सर बाइक पर स्कूल पहुंचता था।

- यह बात प्रिंसिपल व टीचर्स ने उसके फैमलीवालों को कभी बताई थी। उसे स्कूल से रेस्टिकेट करने की भी धमकी दी गई थी। स्टूडेंट पढ़ाई में कमजोर था।

रितु की मौत के बाद रोती उनके परिवार की महिला। रितु की मौत के बाद रोती उनके परिवार की महिला।
आरोपी 12वीं कॉमर्स विद इकॉनोमिक्स का स्टूडेंट है। आरोपी 12वीं कॉमर्स विद इकॉनोमिक्स का स्टूडेंट है।
बड़ा बेटा कोलकाता में जॉब करता है और छोटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहा है। बड़ा बेटा कोलकाता में जॉब करता है और छोटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहा है।
प्रिंसिपल रीतू इकॉनोमिक्स की क्लास लेतीं थी। उनके पति राजेश छाबड़ा चाऊमीन सप्लाई करते हैं। प्रिंसिपल रीतू इकॉनोमिक्स की क्लास लेतीं थी। उनके पति राजेश छाबड़ा चाऊमीन सप्लाई करते हैं।
पति राजेश के मुताबिक हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया। पति राजेश के मुताबिक हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया।
सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया। सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया।
X
आरोपी 12 वीं क्लास का स्टूडेंट है। शनिवार को स्कूल में उसने अपने प्रिसिपल की चार गोली मारकर हत्या कर दी।आरोपी 12 वीं क्लास का स्टूडेंट है। शनिवार को स्कूल में उसने अपने प्रिसिपल की चार गोली मारकर हत्या कर दी।
रितु की मौत के बाद रोती उनके परिवार की महिला।रितु की मौत के बाद रोती उनके परिवार की महिला।
आरोपी 12वीं कॉमर्स विद इकॉनोमिक्स का स्टूडेंट है।आरोपी 12वीं कॉमर्स विद इकॉनोमिक्स का स्टूडेंट है।
बड़ा बेटा कोलकाता में जॉब करता है और छोटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहा है।बड़ा बेटा कोलकाता में जॉब करता है और छोटा रोहिन कुरुक्षेत्र एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहा है।
प्रिंसिपल रीतू इकॉनोमिक्स की क्लास लेतीं थी। उनके पति राजेश छाबड़ा चाऊमीन सप्लाई करते हैं।प्रिंसिपल रीतू इकॉनोमिक्स की क्लास लेतीं थी। उनके पति राजेश छाबड़ा चाऊमीन सप्लाई करते हैं।
पति राजेश के मुताबिक हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया।पति राजेश के मुताबिक हर दिन 11 से 11.30 बजे दोनों के बीच मोबाइल पर बात होती है, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया।
सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया।सीने में चार गोलियां लगने से घायल हुई प्रिंसिपल को स्कूल संस्था के ही स्वामी विवेकानंद अस्पताल में ले जाया गया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..