• Hindi News
  • Haryana
  • Ambala
  • टाइम से न आने और अफसरों से बदतमीजी पर रोडवेज यूनियन प्रधान और सचिव सस्पेंड
--Advertisement--

टाइम से न आने और अफसरों से बदतमीजी पर रोडवेज यूनियन प्रधान और सचिव सस्पेंड

अम्बाला रोडवेज जीएम रीगन कुमार ने सुबह टाइम से ड्यूटी पर नहीं आने और रोडवेज अधिकारियों के साथ अभद्र व्यवहार पर...

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:05 AM IST
टाइम से न आने और अफसरों से बदतमीजी पर रोडवेज यूनियन प्रधान और सचिव सस्पेंड
अम्बाला रोडवेज जीएम रीगन कुमार ने सुबह टाइम से ड्यूटी पर नहीं आने और रोडवेज अधिकारियों के साथ अभद्र व्यवहार पर हरियाणा रोडवेज वर्कर यूनियन अम्बाला डिपो प्रधान रमेश श्योकंद और सेक्रेटरी महावीर पाई को सस्पेंड कर दिया है। यूनियन शुक्रवार शाम को कंडक्टर्स को ड्यूटी पर न भेजने के मामले में जीएम से बातचीत करने के लिए गई थी। इसी दौरान जीएम और यूनियन पदाधिकारियों के बीच हल्की नोक-झोंक हो गई। जीएम ने दोनों कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया। यूनियन का कहना है कि जब तक जीएम रोडवेज इन आदेशों को वापस नहीं लेते तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा।

रोडवेज डिपो में कंडक्टरों की ड्यूटी न लगाए जाने का आरोप लगाते हुए हरियाणा रोडवेज वर्कर यूनियन ने प्रदर्शन कर डीआई रूम के समक्ष धरना देते हुए रोडवेज अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की। यूनियन प्रधान रमेश श्योकंद ने बताया कि शुक्रवार सुबह कंडक्टर सतीश, जितेंद्र, राकेश, विकास ड्यूटी पर पहुंचे थे। उनकी ड्यूटी नहीं लगाई गई, जबकि दोपहर में पहुंचे कंडक्टर को ड्यूटी पर भेज दिया रोडवेज में बस और ड्राइवर की कमी से कई कंडक्टर को रेस्ट पर भेजा जाता है। जब कंडक्टर्स ने अपनी ड्यूटी इंचार्ज से हाजरी लगाने को कहा, मगर ड्यूटी इंचार्ज ने हाजरी लगाने से इंकार कर दिया। प्रदर्शन के बाद उन्हें बातचीत के लिए बुलाया था। जीएम रीगन कुमार ने सही तरीके से बातचीत नहीं की और उन्हें सस्पेंड करने की चेतावनी दी। इसके बाद वह वापस आ गए। उधर जीएम रीगन कुमार का कहना है कि दोनों कर्मचारी सुबह टाइम से ड्यूटी नहीं आते और ड्यूटी लगाने पर अधिकारियों से अभद्र व्यवहार के साथ बात करते हैं। इसी को लेकर दोनों को सस्पेंड किया गया।

यूनियन का अारोप, सुबह 10 बजे आने के बाद भी ड्यूटी पर नहीं भेजा

X
टाइम से न आने और अफसरों से बदतमीजी पर रोडवेज यूनियन प्रधान और सचिव सस्पेंड
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..