Hindi News »Haryana »Ambala» आईआरसीटीसी लाएगा पेमेंट गेटवे आई-पे, टिकट बुक करने पर मिलेगी छूट

आईआरसीटीसी लाएगा पेमेंट गेटवे आई-पे, टिकट बुक करने पर मिलेगी छूट

हरिन्द्र पाल सिंह / अम्बाला | भारतीय रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) से कुछ क्षण में टिकट बुक हो...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:05 AM IST

हरिन्द्र पाल सिंह / अम्बाला | भारतीय रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) से कुछ क्षण में टिकट बुक हो जाएगी। टिकट बुकिंग को सुविधाजनक बनाने के लिए आईआरसीटीसी अपना खुद का पेमेंट गेटवे आई-पे शुरू करने जा रहा है। आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर एक बार पेमेंट गेटवे नंबर डालते ही सभी सुविधाएं तुरंत मिलेंगी। इससे थर्ड पाटी के पेमेंट गेटवे से निर्भरता खत्म हो जाएगी। इससे बुकिंग की लागत में कमी आएगी। इसका फायदा ये होगा कि टिकट बुक करने पर यात्री को कुछ फीसदी छूट भी मिलेगी।

यात्रियों की सुविधा के लिए आईआरसीटीसी लगातार कई बदलाव कर रहा है। चाहे वो खानपान को लेकर हो या फिर टिकटिंग प्रणाली को लेकर। आईआरसीटीसी ने ऑनलाइन टिकटिंग के लिए कुछ बैंकों व अन्य पेमेंट देने वाली एजेंसियों से गठजोड़ किया है। इसका मकसद टिकट के समय ऑनलाइन पेमेंट आईआरसीटीसी के खाते में सीधी पहुंचाना है। अब दूसरों पर निर्भर रहने की पॉलिसी में आईआरसीटीसी बदलाव करने जा रही है। इसका फायदा सीधा यात्री को देने जा रही है। इसी कड़ी में अब बैंकों की तरह ही आईआरसीटीसी अपना पेमेंट का अलग स्ट्रक्चर तैयार करेगा। टिकट बुक कराते समय या अन्य किसी सुविधा के लिए थर्ड पार्टी पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा।

1 से 2 माह में शुरू हो सकती सुविधा

आईआरसीटीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आईआरसीटीसी द्वारा शुरू की जा रही सुविधा का नाम आई-पे रखा जाएगा। टेस्टिंग के बाद चरणबद्ध तरीके से इस सुविधा को पूरी तरह से शुरू कर दिया जाएगा। टेस्टिंग के दौरान अन्य थर्ड पार्टी पेमेंट गेटवे भी मौजूद रहेंगे। आईआरसीटीसी का पेमेंट गेटवे शुरू होने में अभी एक से दो महीने का समय लग सकता है। आईआरसीटीसी के सीआरएम गुलशन कुमार ने बताया कि यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आईआरसीटीसी अपना पेमेंट गेटवे लाने जा रही है, ताकि टिकट बुक कराते समय या अन्य किसी सुविधा के लिए तत्काल पेमेंट आईआरसीटीसी के खाते में पहुंच जाए।

अब बुकिंग रद्द नहीं होगी

आईआरसीटीसी की वेबसाइट से हर महीने लगभग 12 लाख टिकटों की बुकिंग होती है। इन टिकट के लिए भुगतान थर्ड पार्टी यानी की बैंक, यूपीआई, मोबाइल वॉलेट और डेबिट-क्रेडिट कार्ड पेमेंट गेटवे की मदद से किया जाता है, लेकिन कई बार पेमेंट समय पर न मिलने के कारण टिकट रद्द हा़े जाती थी। संबंधित यात्री को परेशानी का सामना करना पड़ता था। इसके लाॅन्च होते ही यात्री की बुकिंग रद्द नहीं होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×