• Home
  • Haryana
  • Ambala
  • लोकतंत्र सुरक्षा मंच ने दिया सरपंचों को समर्थन
--Advertisement--

लोकतंत्र सुरक्षा मंच ने दिया सरपंचों को समर्थन

लोकतंत्र सुरक्षा मंच के जिलाध्यक्ष नायब सिंह पटाक माजरा ने कहा कि खट्टर सरकार लोगों के हितों की रक्षा करने की बजाय...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
लोकतंत्र सुरक्षा मंच के जिलाध्यक्ष नायब सिंह पटाक माजरा ने कहा कि खट्टर सरकार लोगों के हितों की रक्षा करने की बजाय जनता के साथ तानाशाही कर रही है। तानाशाही के बल पर लोगों के हितों का हनन करना चाहती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बातचीत के लिए उनके आवास पर गए प्रदेश की पंचायतों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत कर उनकी समस्याओं का समाधान करने की बजाय अपमान करने का काम किया।

नायब सिंह ने कहा कि सरकार जबरदस्ती पंचायतों पर ई-पंचायत प्रणाली थोपने की बजाय पहले प्रदेश की पंचायतों को सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध करवाए। ताकि पंचायतों को विकास कार्य करने में कोई परेशानी न आए। नायब सिंह पटाक माजरा रविवार को खंड कार्यालय बाबैन में ई-पंचायत प्रणाली के विरोध में चल रहे खंड के सरपंचों व ग्राम सचिवों के धरने के तीसरे दिन लोकतंत्र सुरक्षा मंच का समर्थन देने के दौरान बोल रहे थे।

इस अवसर पर जिला सरपंच एसोसिएशन के प्रधान सुभाष कसीथल, राजेंद्र बुहावी, प्रदीप कुमार भूखड़ी, विश्वजीत बिंदल बाबैन, गुरमीत कलाल माजरा, मुकेश शर्मा भगवानपुर, सरबजीत जालखेड़ी, रणबीर बिंट, गुलजार बेरथला, सुरेश रामसरन माजरा, सुखबीर खिड़की, चमनलाल फाल संडा रांगड़ान, मेजर सिंह मंगोली, गुरनाम गुर्जर, विक्रम टाटका, सुखविंद्र सिंह फाल संडा, ग्राम सचिव संजीव सैनी, मनजीत सिंह और रोबिन मौजूद थे।