Hindi News »Haryana »Ambala» Different Themes Will Nine Technical Sessions

गीता जयंती: नौ तकनीकी सत्रों का होगा अलग-अलग थीम,

गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर 25 से 27 नवंबर के बीच तीन दिवसीय अंतर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा।

Bhaskar New s | Last Modified - Nov 14, 2017, 04:57 AM IST

कुरुक्षेत्र. कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के ऑडिटोरियम हॉल में अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर 25 से 27 नवंबर के बीच तीन दिवसीय अंतर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। केयू पर्यटन, संस्कृत, दर्शन व प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में होने वाली संगोष्ठी में 10 देशों के 200 से अधिक विद्वान श्रीमद भगवद गीता से जुड़े विभिन्न विषयों पर चर्चा करेंगे।

संगोष्ठी का उद्घाटन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे। संगोष्ठी की तैयारियों को लेकर केयू कुलपति ने अधिकारियों की बैठक ली। संगोष्ठी की निदेशिका प्रो. मंजुला चौधरी ने बताया कि संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र में जहां देश के जाने-माने गीता मनीषी हिस्सा लेंगे वहीं तकनीकी सत्रों में श्रीमद भगवद् गीता से जुड़े विभिन्न विषयों पर विद्वान चर्चा करेंगे। उन्होंने बताया कि इस तीन दिवसीय संगोष्ठी में अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, किर्गिस्तान और जापान सहित 10 देशों के 200 से अधिक प्रतिभागी हिस्सा लेंगे।

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में अंतर राष्ट्रीय गीता संगोष्ठी का राष्ट्रपति करेंगे उद्घाटन

प्रो. मंजुला चौधरी ने बताया कि डिजिटल युग में स्वयं की खोज भगवद् गीता के संदर्भ में गीता पर होने वाली संगोष्ठी के नौ तकनीकी सत्रों में प्रत्येक तकनीकी सत्र का एक विशेष थीम निर्धारित किया गया है। प्रत्येक तकनीकी सत्र में छह मुख्य वक्ता होंगे और अन्य विद्वान अपने शोध पत्र प्रस्तुत करेंगे। उन्होंने बताया कि उद्घाटन सत्र के दिन दो तकनीकी सत्र दोपहर बाद रखे गए हैं। 25 नवंबर को तकनीकी सत्र विश्वविद्यालय का दर्शन शास्त्र विभाग आयोजित करेगा। इन दो तकनीकी सत्रों में दर्शनशास्त्र से जुड़े विशेषज्ञ हिस्सा लेंगे। 26 नवंबर को विश्वविद्यालय का पर्यटन विभाग दो तकनीकी सत्रों का आयोजन करेगा। जिसमें डिजिटल युग में स्वयं की खोज पर्यटन के संदर्भ में पर मंत्रणा होगी। 26 नवंबर को सायंकालीन सत्र प्रबंधन विभाग की ओर से होगा, जिसमें देश-विदेश के मैनेजमेंट गुरु श्रीमद भगवद् गीता पर प्रबंधन की दृष्टि से शोधपत्र प्रस्तुत करेंगे। 27 नवंबर को संस्कृत विभाग की ओर से तीन तकनीकी सत्र होंगे। इन तकनीकी सत्रों में दुनियाभर से संस्कृत के विद्वान गीता, संस्कृत एवं डिजिटल युग के संदर्भ में अपने शोधपत्र प्रस्तुत करेंगे।

वर्ल्ड टेन मैराथन में 15 हजार प्रतिभागी करेंगे शिरकत

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती पर इस बार भी मैराथन होगी। 19 नवंबर को तीन बजे द्रोणाचार्य स्टेडियम में इंटरनेशनल वर्ल्ड टेन मैराथन शुरू होगी। उपायुक्त सुमेधा कटारिया ने बताया कि मैराथन में देश-विदेश से लगभग 15 हजार लोग भाग लेंगे। दौड़ को 3 स्तरों में विभाजित किया गया है। जिसके पहले स्तर की 10 किलोमीटर की दौड़ में 14 साल से ऊपर के खिलाड़ी भाग लेंगे। दूसरे स्तर की तीन किलोमीटर की दौड़ मे 55 साल के ऊपर के वरिष्ठ नागरिक की होगी। तीसरे स्तर की दौड़ जॉय ऑफ रनिंग तीन किमी की दौड़ मे 6 साल से ऊपर के बच्चे, नौजवान, माता-पिता व परिवार भी भाग ले सकते हैं। दौड़ के लिए 18 नवंबर को योगा हाल स्टेडियम में सुबह 11 बजे से सायं 5 बजे तक आवेदन कर सकते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×