Hindi News »Haryana »Ambala» Dr Bhagwat Said Need To Deliver Message Of Gita For Public

आज जनमानस तक गीता का संदेश पहुंचाने की आवश्यकता : डॉ. मोहन भागवत

आरएसएससंघ संचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा कि गीता का सिद्धांत जन मानस तक पहुंचाने की आवश्यकता है।

Bhaskar news | Last Modified - Nov 26, 2017, 07:46 AM IST

आज जनमानस तक गीता का संदेश पहुंचाने की आवश्यकता : डॉ. मोहन भागवत

कुरूक्षेत्र | आरएसएससंघ संचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा कि गीता का सिद्धांत जन मानस तक पहुंचाने की आवश्यकता है। युवा पीढ़ी को नव राष्ट्र के निर्माण में रही चुनौतियों का समाधान गीता ज्ञान में निहित है।


गीता हमें कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी भागने को नहीं कहती। जैसे महाभारत के युद्ध में अपने कर्तव्य का निर्वहन करने के लिए भगवान श्री कृष्ण वृन्दावन को छोड़कर मोहग्रस्त अर्जुन को कर्तव्य का बोध करवाने के लिए कुरुक्षेत्र गए थे। फिर कभी वापस वृन्दावन नहीं गए। आज लंबे समय बाद भारत में समय अनुकूल है और देश विश्व में आगे बढ़ रहा है। वे शनिवार शाम को गीता महोत्सव सांस्कृतिक संध्या के शुभारंभ पर बोल रहे थे। कहा कि जैसा करोगो-वैसा भोगेगे, अच्छे काम करोगे तो अच्छा परिणाम मिलेगा और बुरे कर्म करोगे तो बुरा परिणाम मिलेगा। इस दौरान उन्होंने गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानन्द महाराज द्वारा लिखित पुस्तक स्वस्थ राजनीति -समृद्ध राष्ट्र का विमोचन किया। कहा कि किसी को निराश हारकर आत्महत्या की ओर नहीं बढ़ना चाहिए बल्कि कठिन परिस्थितियों का मुकाबला करना चाहिए। मैं और मेरा इससे उठकर हमें कर्म करना होगा और यही गीता का संदेश है।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: aaj jnmaans tak gaitaa ka sndesh phunchaane ki aavshyktaa : do. mohn bhaagavt
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×