--Advertisement--

हेलीकॉप्टर में दुल्हन लेकर आया दूल्हा, 3 मिनट 20 सेकंड में ही पहुंचा ससुराल

मां रामकली की इच्छा थी की छोटा बेटा सुरेश कुमार अपनी दुल्हन को हेलीकॉप्टर में बैठाकर ससुराल लाए।

Danik Bhaskar | Nov 29, 2017, 11:43 PM IST
दूल्हा प्रॉपर्टी डीलर है जबकि दुल्हन एमबीए पास है। दूल्हा प्रॉपर्टी डीलर है जबकि दुल्हन एमबीए पास है।

कैथल. बरटा गांव की रहने वाली रामकली की इच्छा थी की उसका छोटा बेटा सुरेश कुमार अपनी दुल्हन को हेलिकॉप्टर में बैठाकर ससुराल लाए। बुधवार को उसकी वो इच्छा पूरी हुई। दूल्हा सुरेश कुमार दुल्हन को हेलिकॉप्टर से ले आया। सुरेश का सुसराल छौत गांव में है। दोनों के गांव के बीच की दूरी 15 किलोमीटर की है।

भांजे और मामा ने की थी प्लानिंग

- गांव बरटा की रामकली ने बताया कि उसके पास 4 बेटे हैं। 3 की पहले ही शादी हो चुकी है। उसके पति रामस्वरूप की मौत के बाद वे अपने चौथे बेटे सुरेश की शादी शानोशौकत से करना चाहती थी।

- अब उसकी वो इच्छा पूरी हुई। रामकली की इच्छा पूरी करने के लिए भांजे व मामा ने बरात के लिए हेलीकॉप्टर बुक कराया था।

- भांजे प्रदीप व मामा सुरेश कुमार ने अलग करने की प्लानिंग बनाई और हेलीकॉप्टर को किराए पर लाया गया। सुरेश कुमार बीए करने के बाद अपना प्रॉपर्टी का बिजनेस करता है।

- दुल्हन कीर्ति ने एमबीए की है। बरटा गांव पहले जींद में था। लेकिन पिछले छह महीने से कैथल में शामिल हो गया है।

- पिछले 15 दिनों से हेलिकॉप्टर के लिए परमिशन के लिए एप्लीकेशन लगाई हुई थी। दोनों गांव के लिए 24 नवंबर को जींद व कैथल से मंजूरी मिल गई थी।

- छौत व बरटा गांव में देखने के लिए आस-पास के इलाके से भी काफी भीड़ पहुंची हुई थी। इस भीड़ को किसी भी पक्ष की तरफ से कोई इन्वीटेशन नहीं थी। हेलिकॉप्टर के आने से जाने तक भीड़ ज्यों की त्यों गांव छौत में ही बनी रही।

बहू के हेलीकॉप्टर से उताकर सास ने कही ये बात

- सुरेश की पत्नी कीर्ति को हेलिकॉप्टर से उतारकर उसकी मां ने अपनी बहू के सिर पर हाथ रखा और बोली- अब गांव की हर बहू अपने सास को एक ही बात कहेगी कि ‘क्या जहाज में लाए थे।'

- शादी की खुशी के माहौल में ऐसी ही हंसी मजाक सुरेश के बरटा गांव में बरात दुल्हन लेकर लौटने पर स्वागत के समय चला।

सवा 3 घंटे में निपटाए रीति-रिवाज

- बुधवार को सुबह 12:30 बजे हेलीकॉप्टर में दूल्हा सुरेश, उसका भाई पवन, बहन कृष्णा व भतीजी मनदीप को साथ बिठाकर अपने ससुराल गांव छौत में 12:38 मिनट पर पहुंचा।

- बरात के स्वागत के बाद जयमाला और फेरे हुए। सभी रस्मों को पूरा करते हुए 3:58 बजे वापसी हुई।

- इस बार सुरेश के अलावा उसकी पत्नी कीर्ति, साला विकास व भजना हरतीज उसके साथ 4:06 बजे वापस बरटा गांव में पहुंचा।

आगे की स्लाइड्स में देखें, खबर से रिलेटेड और फोटोज...

बरटा गांव के रहने वाले सुरेशन अपने ससुराल हेलिकॉप्टर से पहुंचा। बरटा गांव के रहने वाले सुरेशन अपने ससुराल हेलिकॉप्टर से पहुंचा।
सुरेश और कीर्ती का शादी महज सवा तीन घंटे में होे गई। सुरेश और कीर्ती का शादी महज सवा तीन घंटे में होे गई।
दूल्हा सुरेश दोपहर में हेलिकॉप्टर से रवाना हुआ था। दूल्हा सुरेश दोपहर में हेलिकॉप्टर से रवाना हुआ था।
शादी के बाद गांव में लोगों के साथ दूल्हा। शादी के बाद गांव में लोगों के साथ दूल्हा।
शाम चार बजे सुरेश की बरात गांव पहुंची। शाम चार बजे सुरेश की बरात गांव पहुंची।