Hindi News »Haryana »Ambala» Students Not Returning To School Despite Admission

एडमिशन के बावजूद स्कूल नहीं लौटी छात्राएं, प्रिंसिपल बोले-हम खुद कर रहे इंतजार

यौन शोषण का शिकार हुईं सरकारी स्कूल की दोनों छात्राओं ने दोबारा एडमिशन के बाद भी स्कूल आना शुरू नहीं किया है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 11, 2017, 05:19 AM IST

यमुनानगर.यौन शोषण का शिकार हुईं सरकारी स्कूल की दोनों छात्राओं ने दोबारा एडमिशन के बाद भी स्कूल आना शुरू नहीं किया है। टीचर कई बार परिजनों से छात्राओं को स्कूल भेजने का आग्रह कर चुके हैं। लुधियाना से न लौटने के कारण एक छात्रा की काउंसिलिंग भी नहीं हो पाई है। डीसीपीओ डॉ. रिचा बुद्धिराजा ने बताया कि आने के बाद काउंसिलिंग कर बयान रिकाॅर्ड किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि छात्राओं की सुरक्षा को लेकर भी बंदोबस्त किए जाएंगे, ताकि आरोपी उन पर किसी तरह का दबाव न बना पाएं।

कोरे दस्तावेज पर करवाए साइन
सूत्रों के अनुसार छात्रा के बुजुर्ग परिजनों से अध्यापकों ने एडमिशन देने के बहाने कोरे दस्तावेजों पर साइन करवाएं हैं। हालांकि दस्तावेजों पर क्या लिखा है कि इसका खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस वारदात में इस्तेमाल की गई कार की तलाश कर रही है। एक छात्रा ने कहा कि आरोपी घुमाने के बहाने से उसे दूसरी छात्रा के साथ कार में ले गए थे। हालांकि अभी तक यह पता नहीं चल पाया कि कार किराए पर ली थी या नहीं। पुलिस इस पहलू पर जांच कर रही है।
छात्राओं को भेजने के लिए परिजनों से भी किया आग्रह : परमजीत गर्ग
प्रिंसिपल परमजीत गर्ग ने बताया कि दाखिले के बाद छात्राओं ने आना शुरू नहीं किया है। छात्राओं को भेजने के लिए कई बार परिजनों से भी आग्रह किया है। टीचर द्वारा छात्रा के परिजनों से कोरे दस्तावेजों पर साइन करवाने के आरोप भी झूठे हैं।
प्रिंसिपल परमजीत गर्ग
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×