• Home
  • Haryana
  • Ambala
  • ग्रामीण एरिया में 11 हजार से ज्यादा अवैध मिले पानी के कनेक्शन
--Advertisement--

ग्रामीण एरिया में 11 हजार से ज्यादा अवैध मिले पानी के कनेक्शन

भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी जिलाभर में 11 हजार से ज्यादा पानी के कनेक्शन अवैध चल रहे थे। इन कनेक्शन का न तो पब्लिक...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी

जिलाभर में 11 हजार से ज्यादा पानी के कनेक्शन अवैध चल रहे थे। इन कनेक्शन का न तो पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के पास रिकॉर्ड था और न ही इन कंज्यूमर्स ने अभी तक पानी का बिल जमा करवाया। पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट का जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कैंपेन चल रहा है। घर-घर जाकर कनेक्शन की जांच की जा रही है कि कनेक्शन वैध या अवैध। इतने अवैध कनेक्शन सामने आने से पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट अधिकारी भी देखकर हैरान हैं। फील्ड वर्कर अवैध कनेक्शन कंज्यूमर्स से जाकर संपर्क कर रहे हैं। मौके पर ही इन कनेक्शन को वैध किया जा रहा है। दरअसल, ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध कनेक्शन को वैध करने के लिए पहले भी अभियान चले हैं। साथ ही कंज्यूमर्स को पानी की महत्ता बारे जागरूक किया जाता है। साथ ही घर-घर जाकर पब्लिक हेल्थ द्वारा लगाए गए फील्ड वर्कर कनेक्शन की जांच कर रहे हैं। जिन कंज्यूमर्स का रिकॉर्ड पब्लिक हेल्थ के पास है। उन कंज्यूमर्स से कोई सिक्योरिटी नहीं ली जा रही है और जिन कंज्यूमर्स ने अभी तक पब्लिक हेल्थ में सिक्योरिटी नहीं भरी या उनका रिकॉर्ड डिपार्टमेंट के पास नहीं है तो उन कंज्यूमर्स को 500 रुपए की सिक्योरिटी भरने पड़ेगी। फील्ड वर्कर मौके पर ही अवैध कनेक्शन को वैध करने के लिए फाइल बना रहे हैं। आधार कार्ड के अलावा बिजली बिल या एक अन्य कागजात भी देना होगा। सिक्योरिटी भरने के बाद जनरल व अन्य कैटेगरी को प्रति महीना 20 रुपए के हिसाब से बिल अदा करना पड़ेगा। पूरे साल का बिल 240 रुपए भरना होगा। ऐसी ही एससी कैटेगरी के लिए 10 रुपए प्रति महीना देना होगा। यह बिल एक साल का 120 रुपए देना होगा।

पब्लिक हेल्थ ने कैंपेन चलाया, 500 रुपए सिक्योरिटी लेकर कर रहे वैध, इसके लिए आधार कार्ड के अलावा बिजली िबल भी जरूरी

पहले बिल आ रहा तो सिक्योरिटी भरने की जरूरत नहीं

जानकारी के अनुसार आईवीपीवाई स्कीम के तहत कई साल पहले एससी कैटेगरी कंज्यूमर्स काे सरकार द्वारा पानी की टंकियां बांटी गई थी। उन सभी का रिकॉर्ड डिपार्टमेंट के पास है। उन कंज्यूमर्स के पास पानी का बिल भी पहुंचता है। मगर ज्यादातर जनरल व अन्य कैटेगरी के कंज्यूमर्स का रिकॉर्ड डिपार्टमेंट के पास नहीं है। उन कंज्यूमर्स का रिकॉर्ड दर्ज किया जा रहा है। मौके पर ही 500 रुपए सिक्योरिटी भरकर बिल देना शुरू किया जा रहा है।

छह ब्लॉक में 30 टीमें जुटी

जिला के अम्बाला वन, अम्बाला ब्लॉक टू, साहा, बराड़ा, शहजादपुर, नारायणगढ़ ब्लॉक में 25 से 30 टीम कैंपेन में लगी है। 218 गांवों में कैंपेन चल रहा है जोकि जून तक चलाया जाएगा। कनेक्शन वैध करने के साथ कंज्यूमर्स को पानी बचाने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है।