Hindi News »Haryana »Ambala» बिना फाइनल अप्रूवल के कपड़ा मार्केट आरओबी लटका

बिना फाइनल अप्रूवल के कपड़ा मार्केट आरओबी लटका

भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी रेलवे और पीडब्ल्यूडी बीएंडआर विभाग के बीच तालमेल नहीं होने की वजह से लोगों के लिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:05 AM IST

बिना फाइनल अप्रूवल के कपड़ा मार्केट आरओबी लटका
भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी

रेलवे और पीडब्ल्यूडी बीएंडआर विभाग के बीच तालमेल नहीं होने की वजह से लोगों के लिए परेशानी बढ़ गई है। सिटी के फाटक गेट नंबर 126 पर आरओबी बनाया जाना है। आरओबी बनाने के लिए रेलवे और पीडब्ल्यूडी बीएंड आर कार्य कर रहा है। मगर पीडब्ल्यूडी बीएंडआर ने सड़क खोदनी शुरू कर दी।

हैरानी की बात है कि बुधवार को पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने बताया कि रेलवे की ओर से फाइनल अप्रूवल नहीं मिली, जिस कारण काम बीच में ही रोक दिया गया है। अब आरओबी के लिए पीडब्ल्यूडी बीएंडआर डिपार्टमेंट ने गड्ढे तो खोद दिए हैं, मगर कार्य कब शुरू होगा। यह अभी किसी को नहीं पता। जिससे राहगीरों और दुकानदारों के लिए परेशानी खड़ी हो गई।

रेलवे ने पहले अप्रूव किया, फिर मैथेड चेंज करने को लेकर कार्य रुकवाया|पीडब्ल्यूडी अधिकारी कहते हैं कि पहले रेलवे ने आरअोबी कार्य को अप्रूव कर दिया था। इसी वजह से कार्य शुरू किया, मगर बाद में मैथेड चेंज करने की बात कहकर कार्य रुकवा दिया गया। जब तक रेलवे की तरफ कार्य शुरू करने के लिए नहीं कहा जाएगा तब तक कार्य बंद रहेगा।

लंबा करना पड़ेगा इंतजार

कई दिनों से पीडब्ल्यूडी दोनों तरफ अप्रोच लगाने के लिए कार्य कर रहा है। कोर्ट की तरफ से फाटक की तरफ जाने वाले रास्ते को अप्रोच लगाने के लिए खोद भी दिया गया है। दुकानदारों का कहना है कि रेलवे और पीडब्ल्यूडी के बीच तालमेल नहीं होने से परेशानी खड़ी हो गई है। पानी दुकानों की नींव में जा रहा है। बताया जाता है कि कार्य शुरू होने को लेकर करीब एक से डेढ़ महीने का इंतजार भी करना पड़ सकता है।

आरओबी कार्य कंस्ट्रक्शन वाले देख रहे हैं। अभी आरओबी का टेंडर फाइनल नहीं हुआ है। कब तक होगा इसकी भी कोई फाइनल डेट नहीं है। दिनेश चंद्र शर्मा, डीआरएम, अम्बाला मंडल।

आरओबी रेलवे बनाएगा, जबकि दोनों तरफ अप्रोच लगाने का कार्य पीडब्ल्यूडी कर रहा है। इसके लिए करीब तीन करोड़ खर्च होंगे। रेलवे ने पहले कार्य अप्रूव कर दिया था। इसी वजह से कार्य शुरू किया गया। अब मैथेड चेंज करने की बात कहकर कार्य रुकवा दिया गया है। देवदत्त कम्बोज, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी बीएंडआर।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×