• Hindi News
  • Haryana
  • Ambala
  • अंधड़ से अंधेरा; दिन में 3 बजे तेज तूफान में टूटे पेड़-खंभे, मकान गिरने से बच्ची की मौत
--Advertisement--

अंधड़ से अंधेरा; दिन में 3 बजे तेज तूफान में टूटे पेड़-खंभे, मकान गिरने से बच्ची की मौत

वेदर रिपोर्टर | प्रदेश के विभिन्न जिलों से पश्चिम विक्षोभ के कारण बुधवार दोपहर बाद प्रदेश में धूलभरी आंधी चली।...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:05 AM IST
अंधड़ से अंधेरा; दिन में 3 बजे तेज तूफान में टूटे पेड़-खंभे, मकान गिरने से बच्ची की मौत
वेदर रिपोर्टर | प्रदेश के विभिन्न जिलों से

पश्चिम विक्षोभ के कारण बुधवार दोपहर बाद प्रदेश में धूलभरी आंधी चली। इससे सैकड़ों पेड़, खंभे, टीन-टप्पर और होर्डिंग्स गिर गए। फिरोजपुर झिरका में मकान गिरने से 3 साल की बच्ची की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। महेंद्रगढ़ में एक फाइनेंस कंपनी के कार्यालय की छत क्षतिग्रस्त होने से काफी नुकसान हुआ है। पेड़-होर्डिंग्स गिरने से सैकड़ों वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं।

3 बजे ही हो गया अंधेरा

आंधी व बादलों के कारण तीन बजे ही अंधेरा हो गया। वाहनों की लाइट जलाकर चलना पड़ा। शाम तक कई क्षेत्रों में बारिश हुई। अम्बाला में 8 एमएम बारिश दर्ज की गई। नूंह के फिरोजपुर झिरका व भिवानी के रेवाड़ी खेड़ा में ओले भी गिरे। कई दिन से चल रही गर्म हवाओं में ठंडक आ गई। इससे दिन का पारा 5 से 7 डिग्री तक कम हो गया। यह 35 डिग्री के आसपास आ गया।

अम्बाला सिटी में बुधवार दोपहर बाद 3 बजे ऐसा नजारा था। फोटो : राजेश कश्यप

मंडियों में भीगा लाखों क्विंटल गेहूं

खरीद के साथ ही उठान न होने के कारण बारिश से मंडियों में पड़ा लाखों क्विंटल गेहूं भीग गया। अकेले कुरुक्षेत्र की मंडियों में 12 लाख क्विंटल गेहूं उठान की बाट जोह रहा है।

खंभे गिरने से बिजली सप्लाई ठप

बिजली के खंभे गिरने से कुछ इलाकों में बिजली सप्लाई ठप हो गई। कुछ जगह पर लाइन चालू कर दी गई। लेकिन कई जगह लाइन ज्यादा क्षतिग्रस्त होने के कारण सप्लाई शुरू नहीं हो सकी।

सब्जी की फसलों को नुकसान

आंधी और ओलों से सब्जी जैसे- टमाटर, खीरा आदि फसलों को नुकसान हुआ है। फूल झड़ गया। बेल उखड़ गई। आम के पेड़ों से काफी फल गिर गए।

आगे क्या : 6 मई तक आंधी-बारिश संभव

मौसम विभाग के अनुसार जीटी बेल्ट में चार मई तक बादल छाए रहने या बूंदाबांदी के आसार हैं। अन्य इलाकों में लू से राहत मिल सकती है। 5 मई को फिर से पश्चिम विक्षोभ असर दिखा सकता है, इससे भी तेज हवा और बूंदाबांदी की संभावना बन सकती है।

X
अंधड़ से अंधेरा; दिन में 3 बजे तेज तूफान में टूटे पेड़-खंभे, मकान गिरने से बच्ची की मौत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..