Hindi News »Haryana »Ambala» जून के अंत तक प्रदेश में मानसून देगा दस्तक

जून के अंत तक प्रदेश में मानसून देगा दस्तक

पश्चिमी राजस्थान से उठे धूल के गुबार के कारण बुधवार दोपहर बाद जिला में आंधी चली। रात करीब 8 बजे तक लू चलती रही और लोग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 02:10 AM IST

जून के अंत तक प्रदेश में मानसून देगा दस्तक
पश्चिमी राजस्थान से उठे धूल के गुबार के कारण बुधवार दोपहर बाद जिला में आंधी चली। रात करीब 8 बजे तक लू चलती रही और लोग परेशान रहे। वहीं प्रदेश में मानसून जून अंत तक दस्तक देगा। इसके बाद ही तेज पड़ रही गर्मी से लोगों को निजात मिल सकेगी। मौसम विभाग के अनुसार कल बारिश होने के आसार हैं, जिससे लू से लोगों को राहत मिलने की संभावना है।

दरअसल, पिछले शनिवार को हुई बारिश के बाद लोगों को गर्मी से राहत मिली थी, लेकिन अब दोबारा से राजस्थान की ओर से आ रही धूल भरी गर्म हवाओं की वजह से तापमान में बढ़ोतरी हो गई है। इस वजह से बुधवार को सड़कों पर लोग गर्मी से परेशान होते दिखाई दिए। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को बारिश होने के आसार हैं, लेकिन इसके बाद दोबारा से तापमान में बढ़ोतरी आएगी। हालांकि जून अंत में मानसून आने के बाद लोगों को लगातार पड़ रही तेज गर्मी से राहत मिलेगी। बुधवार को जिले का अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 28.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं गर्म हवा की रफ्तार 20 किलोमीटर दर्ज की गई।

पश्चिमी राजस्थान से उठा धूल का गुबार, रात 8 बजे तक गर्म हवाओं ने तड़पाया, कल बारिश के आसार

बुधवार को दिनभर आसमान में धूलभरा माहौल रहा। शाम के समय धूलभरी आंधी के दौरान जीटी रोड से गुजरता वाहन चालक।

क्यों हुआ ऐसा?

मौसम विशेषज्ञ के अनुसार प्रेशर ग्रेडियंट में बड़े अंतर के चलते हवाएं तेज हुई। पाकिस्तान में दबाव अधिक है, जबकि उत्तर-पश्चिम भारत में दबाव कम है। अधिक दबाव वाले क्षेत्रों से कम दबाव वाले क्षेत्र में हवाएं तेजी से आती हैं। यही कारण है कि उत्तर-पश्चिम भारत में 30 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गर्म हवाएं चल रही हैं।

मैदानी क्षेत्रों में छाई धूल

पाकिस्तान और मध्य-पूर्व एशिया सहित राजस्थान में लंबे समय से बारिश नहीं हुई है। इन भागों में रेगिस्तान की रेत के अलावा धूल के कण भी तेज हवाओं के साथ उत्तर भारत तक पहुंच रहे हैं। शुरुआत में इन भागों से उठा धूल का गुबार वायुमंडल में 7 से 8 हजार फीट ऊपर था और बाद में नीचे आई।

आगे क्या?

हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी धूल छाई हुई है। इन सभी भागों में अगले दो-तीन दिनों तक तेज हवाओं के साथ धूल छाई रहेगी। धूल के कारण गर्मी अधिक महसूस हो रही है। शाम और रात के समय गर्मी अधिक परेशान इसलिए कर रही है क्योंकि धूल की यह चादर जमीन की सतह से गर्मी को वायुमंडल में वापस नहीं जाने देती।

कल बारिश की संभावना

राजस्थान से पश्चिम की ओर धूल भरी हवाएं चल रही हैं, जिस वजह से बारिश जैसा मौसम होने के आसार दिखाई दे रहे हैं। शुक्रवार को बारिश होने की संभावना है। वहीं जून के अंत तक मानसून हरियाणा में दस्तक दे सकता है। सुरेंद्र पाल सिंह, निदेशक, मौसम विभाग चंडीगढ़।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×