Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» लैब टेक्नीशियनों के मनाने पर विज ने तो वापस लिए निलंबन आदेश, जिलों में सूचना पहुंचने से तीसरे दिन

लैब टेक्नीशियनों के मनाने पर विज ने तो वापस लिए निलंबन आदेश, जिलों में सूचना पहुंचने से तीसरे दिन भी काम बाधित

हिसार : निलंबितकर्मियों ने नहीं किया काम झज्जर, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र : बहालीके आदेश का रहा इंतजार ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Sep 22, 2016, 02:00 AM IST

  • हिसार : निलंबितकर्मियों ने नहीं किया काम

    झज्जर, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र : बहालीके आदेश का रहा इंतजार

    बहादुरगढ़,यमुनानगर कुरुक्षेत्र के सरकारी अस्पतालों में लैब टेक्नीशियन तो काम पर लौटे लेकिन कागजों में सस्पेंड ही माने गए। देर शाम तक उनकी बहाली का लिखित आदेश नहीं पहुंच पाया था। कुरुक्षेत्र के सीएमओ सुरेंद्र नैन ने डीजी हेल्थ से मिले आदेश के अनुसार 30 कर्मचारियों को सस्पेंशन आर्डर दिए। एलएनजेपी अस्पताल में कर्मचारियों को शाम पांच बजे आर्डर की कॉपी मिली, हालांकि कर्मचारियों ने पूरा दिन काम किया।

    कैथल:24स्टूडेंट्स ने संभाली लैब : लैबमें अप्रेंटिस पर आए 24 स्टूडेंट्स ने काम संभाला। बुधवार को सामान्य अस्पताल में करीब 420 मरीजों के सेंपल लिए गए। 17,00 के करीब टेस्ट भी किए। अनुभव की कमी होने के कारण उनसे 1800 पेंडिंग भी रह गए।

    करनाल | मेडिकलकाॅलेज में पानी के सैंपल लेकर पहुंचे स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को सैंपल वापस लेकर लौटना पड़ा।

    हिसार, सिरसा, भिवानी और फतेहाबाद में लैब टेक्नीशियन के निलंबन और बहाली को लेकर पूरे दिन ऊहापोह की स्थिति रही। निलंबित कर्मियों ने कामकाज नहीं किया। ऐसे में अनुबंधित कर्मियों के सहारे काम चलाया गया। हिसार में करीब 60, भिवानी में 37, सिरसा में 10 में निलंबित हुए हैं। इन कर्मियों ने बुधवार को संबंधित दफ्तरों में हाजिरी लगाई। हड़ताल या प्रदर्शन नहीं हुआ। फतेहाबाद में निलंबित के बाद बहाली के आदेश आने के बाद कर्मियों को रिलीव नहीं किया था, इसलिए उन्होंने पहले की तरह कार्य किया।

    मंगलवार देर रात स्वास्थ्य मंत्री के निवास पर पहुंचे हरियाणा स्टेट लैब टेक्नीशियन।

    अपनी मांगों को लेकर 700 लैब टेक्नीशियन हड़ताल पर थे, मंगलवार को विज ने उन्हें सस्पेंड करने के निर्देश दे दिए। इस पर टेक्नीशियन पहले तो विभाग के एसीएस राजन गुप्ता के पास चले गए। लेकिन इस मीटिंग पर भी विज ने सख्त नाराजगी जताई। इसके बाद तेजी से बदले घटनाक्रम में लैब टेक्नीशियन का प्रतिनिधिमंडल सीधे मंगलवार रात को विज के अम्बाला निवास पर पहुंचा।

    देर रात दिया था उचित फैसला लेने का भरोसा : मंगलवाररात को ही विज ने लैब टेक्नीशियन प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया था कि वह बुधवार दोपहर तक उचित फैसला ले लेंगे। दोपहर बाद स्वास्थ्य मंत्री ने सस्पेंड हुए सभी कर्मियों के बहाली के आदेश जारी कर दिए। प्रतिनिधिमंडल में हरियाणा स्टेट लेबोरेटरी टेक्नीशियन एसोसिएशन के अध्यक्ष विक्रम सिंह तथा महासचिव रमेश कुमार समेत कई प्रतिनिधियों ने कहा कि मंत्री ने उनकी मांगों को जल्द पूरा करने का भरोसा दिया है।

    भास्कर टीम | अम्बाला/राजधानी हरियाणा

    लैबटेक्नीशियनों ने जब अपनी हड़ताल को गलत माना और खेद जताया तो स्वास्थ्य मंत्री उनके निलंबन का आदेश वापस लेने पर राजी हो गए। हालांकि यह भी कहा कि मामले की जांच चलती रहेगी।

    मंगलवार देर रात अम्बाला में मंत्री और लैब टेक्नीशियनों के संगठन में समझौता हो गया था, लेकिन बुधवार को भी कई जिलों में असमंजस की स्थिति रही। कई जिलों में सीएमओ ने लैब टेक्नीशियनों को यह कहकर जॉइन कराने से इनकार कर दिया कि बहाली के आदेश नहीं आए हैं। इसी कंफ्यूजन के चलते लगातार तीसरे दिन सरकारी अस्पतालों में सैंपल टेस्ट का काम बाधित हुआ।

    उल्लेखनीय है कि रेडियोग्राफर के समान वेतनमान अन्य मांगों को लेकर एलटी सोमवार को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे। जबकि मच्छर जनित बीमारियों का हवाला देकर सरकार ने हड़ताल को अवैध घोषित कर दिया था।

    करनाल | बहालीका आदेश मिलने की वजह से सीएम सिटी में स्थित स्टेट लैब में बुधवार टेक्नीशियनों ने काम बंद रखा। टेक्नीशियनों ने मेडिकल कॉलेज स्थित स्टेट लैब में आए मरीजों के सैंपल लेने कई सीएचसी, पीएचसी से पानी के सैंपल लेकर पहुंचे कर्मियों के सैंपल लेने से इंकार कर दिया था। यहां 37 कर्मचारी सस्पेंड हुए हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×