Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» स्कूल का एक गेट बंद करने से बच्चे हो रहे परेशान, बीईओ आज करेंगे दौरा

स्कूल का एक गेट बंद करने से बच्चे हो रहे परेशान, बीईओ आज करेंगे दौरा

परनाला गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के एक गेट को स्थायी तौर पर बंद कर दिया गया। इस पर न केवल ताला लगा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 03, 2018, 02:10 AM IST

परनाला गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के एक गेट को स्थायी तौर पर बंद कर दिया गया। इस पर न केवल ताला लगा दिया गया बल्कि यहां वेल्डिंग तक कर दी गई। ऐसे में लाइन पार क्षेत्र की कई कॉलोनियों की तरफ से आ रहे बच्चे नए सत्र के पहले दिन ही परेशान हो गए। कई देर तक बच्चे गेट खुलने का इंतजार करते रहे, लेकिन बाद में आधा किलोमीटर घूमकर दूसरे गेट से कक्षाओं तक पहुंचे। इस गेट को किसने बंद किया है इस पर स्कूल स्टॉफ ने भी अनभिज्ञता जता दी है। अधिकारी भी अनजान रहे है। आरोप है कि इसके पीछे शरारती तत्वों का हाथ है।

मुख्य गेट बना है अप्रोच रास्ते पर

संदीप अहलावत, महेंद्र, सुरेंद्र, राकेश, वीर सिंह, कृष्ण, रमेश आदि ने कहा कि परनाला स्कूल का मुख्य गेट अप्रोच रास्ते पर बना हुआ है। इस रास्ते पर अक्सर अराजक तत्व बाइकों पर घूमते रहते हैं। यही नहीं स्कूल का रास्ता भी ठीक नहीं है। लाइन पार की अनेक कॉलोनियों से पढऩे के लिए आने वाली छात्राएं इस रास्ते से जाने से संकोच करती है, क्योंकि उन पर कुछ युवक फब्तियां कसते हैं। जिससे वे कॉलोनी की तरफ से बने गेट से ही अपना आना-जाना सुरक्षित मानती है। कॉलोनी के लोगों ने कहा कि जब बच्चों के स्कूल आने का टाइम हो तो इस गेट को खोला जाए और कक्षाएं लगने के बाद फिर से गेट बंद कर दिया जाना चाहिए। यही नहीं बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को लेकर भी उचित कदम उठाना चाहिए और पुलिस को भी यहां पर पेट्रोलिंग करनी चाहिए।

बहादुरगढ़. राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय का गेट बंद हाने की वजय से गेट पर खड़े विद्यार्थी।

यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसी बात है तो मंगलवार को मैं स्कूल का दौरा करूंगा। किसी व्यक्ति ने जानबूझ कर गेट बंद करवाया है तो उसे खुलवाया जाएगा। मदन चोपड़ा, बीईओ

स्कूल में 70 फीसदी बच्चे आते हैं लाइन पार क्षेत्र से

दरअसल परनाला में बने सरकारी स्कूल में 2 गेट बने हुए हैं। एक परनाला मंदिर की तरफ बना हुआ है तो दूसरा लाइन पार क्षेत्र कॉलोनी की तरफ लगा हुआ है। स्कूल में 70 फीसदी बच्चे लाइन पार क्षेत्र के गेट की तरफ से आते हैं। सोमवार से नया शिक्षा सत्र शुरू हुआ, लेकिन जब सुबह लाइन पार क्षेत्र की कॉलोनियों शास्त्री नगर, नेता जी नगर, बलजीत नगर, वत्स कॉलोनी, जौहरी नगर समेत कई अन्य हिस्सों से बच्चे स्कूल गेट पर पहुंचे तो गेट को स्थायी तौर पर बंद देखकर दंग रह गए। गेट पर ताला तो लगा ही था। साथ में गेट कई जगह से वेल्ड भी किया गया था ताकि वह खुल नहीं सके। ऐसे में बच्चे काफी देर तक गेट के पास ही खड़े रहे। यह देखकर आसपास के लोग भी वहां जमा हो गए। जब गेट खुलने की संभावना नजर नहीं आई पहले बच्चों ने यह समझा कि क्या आज से सत्र शुरू नहीं हो रहा, लेकिन जब दूसरे गेट से बच्चे आते रहे तो शिक्षक भी पहुंचते दिखे तो तब बच्चे करीब आधा किलोमीटर का चक्कर लगाकर स्कूल में पहुंचे। उधर गांव परनाला के कुछ लोगों का कहना था कि यहां पर असामाजिक तत्व घूमते रहते है और लड़कियों पर फब्तियां कसते रहते है। इसी कारण से कॉलोनी का गेट बंद किया गया है, क्योंकि कॉलोनी की तरफ से दिनभर आवागमन यहां रहता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×