• Hindi News
  • Haryana News
  • Bahadurgarh
  • 11 पार्षदों ने बैठक कर 22 के साथ होने का दावा किया, कुछ शिमला घूमने निकले
--Advertisement--

11 पार्षदों ने बैठक कर 22 के साथ होने का दावा किया, कुछ शिमला घूमने निकले

नगर परिषद की चेयरपर्सन शीला राठी और वाइस चेयरमैन विनोद कुमार के खिलाफ सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव पेश होना है।...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:10 AM IST
नगर परिषद की चेयरपर्सन शीला राठी और वाइस चेयरमैन विनोद कुमार के खिलाफ सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव पेश होना है। उपायुक्त को शहर के 15 पार्षदों की ओर से ज्ञापन सौंपकर अविश्वास प्रस्ताव लाने की गुहार लगाई गई थी। विरोधी गुट को राठी की सरकार गिराने में 31 में से 21 पार्षदों का समर्थन हासिल करना है। रविवार को आयोजित बैठक में उन्होंने 22 पार्षद अपने साथ होने का दावा किया। हालांकि मौके पर 11 पार्षद और उनके प्रतिनिधि मौजूद थे। बताया जा रहा है कि दोनों गुटों के कुछ पार्षद शिमला गए हुए हैं। वहीं, दूसरी तरफ नप चेयरपर्सन व कांग्रेस समर्थित शीला राठी ने कहा कि सभी पार्षद उनके साथ हैं। वे सभी वार्डों का विकास चाहती हैं चाहे वह किसी भी पार्टी के पार्षद का वार्ड क्यों न हो। अब बहादुरगढ़ नप की कुर्सी राजनीतिक पार्टियों से जुड़ी नहीं है। कांग्रेस समर्थित शीला राठी के पास कांग्रेस, भाजपा और इनेलो के कुछ-कुछ पार्षदों का समर्थन हासिल है। वहीं, कांग्रेस के ही कुछ पार्षद उनके विरोध में भी हैं। डीसी सोनल गोयल ने झज्जर एसडीएम रोहित राय को अविश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया पूरी करवाने के लिए तैनात किया है। वह दोपहर 2 बजे तक नप कार्यालय में पहुंच जाएंगे।

ड्रा से चुनी गई थीं शीला राठी

बहादुरगढ़ नगर परिषद में 22 मई 2016 को नगर परिषद की नई टीम का चुनाव हुआ था। उसके बाद 24 जून को पार्षदों की बैठक बुलाकर शपथ ग्रहण कार्यक्रम हुआ था। फिर 22 अगस्त को चेयरपर्सन व उपप्रधान का चुनाव हुआ था। इसमें भाजपा की मोनिका गर्ग को 10, जबकि पूर्व विधायक नफे सिंह राठी के परिवार से मोनिका राठी और कांग्रेस समर्थक पार्षद शीला राठी को 11-11 वोट मिले थे। एक वोट रद्द होने से मोनिका राठी और शीला देवी के बीच में ड्रा रखा गया। पर्ची निकलने से शीला राठी चेयरपर्सन बन गईं। इसके बाद वार्ड 20 से विनोद को वाइस चेयरमैन चुना गया। चुनाव प्रक्रिया में बहादुरगढ़ नप के सभी 31 वार्ड पार्षदों के साथ विधायक नरेश कौशिक और सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने भी भाग लिया था। एक वोट रद्द हाे गया था।

अविश्वास प्रस्ताव

आज बहादुरगढ़ नगर परिषद चेयरपर्सन शीला राठी के खिलाफ होगी वोटिंग, हटाने के लिए 31 में से 21 वोट चाहिए

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..