• Home
  • Haryana News
  • Bahadurgarh
  • ड्रेन की सफाई के मार्ग में रोड़ा बने फुटपाथ पर रखे 50 खोखे तोड़े, सब्जी मंडी में हड़कंप
--Advertisement--

ड्रेन की सफाई के मार्ग में रोड़ा बने फुटपाथ पर रखे 50 खोखे तोड़े, सब्जी मंडी में हड़कंप

शहर के ड्रीम प्रोजेक्ट वेस्ट जुआ ड्रेन को पक्का करने के प्रयास में ड्रेन की गाद निकालने का काम शहर के अंदर तक पहुंच...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:10 AM IST
शहर के ड्रीम प्रोजेक्ट वेस्ट जुआ ड्रेन को पक्का करने के प्रयास में ड्रेन की गाद निकालने का काम शहर के अंदर तक पहुंच गया है। इस कार्य में रेलवे रोड के निकट ड्रेन के दोनों तरफ बने फुटपाथ बाजार व शेड इसके मार्ग में रुकावट बन गई हैं। इस बाजार को ड्रेन के दूसरी तरफ के सब्जी मंडी के रूप में विकसित किया गया है। यहां स्थित सैकड़ों दुकानों में पचास से अधिक दुकानों को सुबह हटा दिया गया। सुबह जैसे ही दुकानदार सब्जी लेने बड़ी सब्जी मंडी में गए हुए थे कि उन्हें खबर मिली कि ड्रेन बनाने वाली कंपनी की टीम उनके खोखों को हटा रही है। वे वापस पहुंचे पर तब तक काफी संख्या में खोखों को हटाया जा चुका था। स्थिति को गंभीर देख व बार-बार समझाने के बाद भी जब अतिक्रमण हटाने का काम जारी रहा तो दुकानदारों ने अपने खोखे स्वयं हटाने का काम शुरू कर दिया। अब से यहां लगने वाली सब्जी मंडी के व्यापारी ओवर ब्रिज के निकट दुकानों को सजाने का प्रयास करेंगे जिससे रेलवे लाइन के निकट सब्जी मंडी का बाजार सजाया जा सके।

ड्रेन के निकट खोखा बाजार लगाकर सब्जी मंडी लगाने वाले दुकानदारों में रमेश व विनोद का कहना है कि यहां करीब दस सालों से सब्जी का बाजार लग रहा है। अब यहां ड्रेन के दोनों तरफ सड़क तैयार होनी है जिसके चलते उनकी दुकानों को हटा दिया गया है। अब उन्हें दूसरे स्थान पर सब्जी बाजार के लिए स्थान की तलाश करनी होगी। शहर के मध्य होने के कारण लोगों को यहां शाम के समय की सब्जी मंडी लगती थी जहां हजारों लोग सब्जी खरीदते थे। अब उन लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वही दीनदयाल का कहना है कि जैसे ही यहां से निकली जा रही गाद को हटाया जाएगा तो फिर से बाजार सज जाएगा।

बहादुरगढ़. वेस्ट जुआ ड्रेन का प्रोजेक्ट शुरू होने के बाद रेलवे रोड पर तोड़े खोखे।

गाद निकालने के बाद ड्रेन के निकट सीवर लाइन बिछाने

का काम शुरू होगा

पंद्रह दिन पहले ड्रेन को तैयार करने का ऑर्डर जारी करने के बाद एस्टीमेट राशि से करीब 13 फीसदी अधिक रेट पर यह कार्य कराया जा रहा है। 66 करोड़ रुपए की लागत से वेस्ट जुआ ड्रेन का प्रोजेक्ट बनकर तैयार होगा। सीएम 24 और 25 फरवरी को बहादुरगढ़ दौरे के दौरान इस प्रोजेक्ट की आधारशिला रख चुके हैं। वर्क ऑर्डर जारी करने के बाद अब बहुत जल्द ही इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा। इसी सप्ताह में पूरी ड्रेन की सफाई का काम हो जाएगा। उसके साथ ही दोनों तरफ सीवर लाइन तैयार करने का काम शुरू होगा जिससे आसपास के सैकड़ों घरों से ड्रेन में गिर रही सीवर लाइन का कनेक्शन सीवर में किया जा सके।

20 दिसंबर को खोला

था टेंडर

20 दिसंबर को ड्रेन का टेंडर खोला गया था, जिसमें पीआरएल प्रोजेक्ट एंड इनफ्रास्ट्रक्चर और आरके जैन इंफ्रा प्रोजेक्ट ने टेंडर भरा था। इसमें पीआरएल प्रोजेक्ट कंपनी के रेट कम पाए गए है। 58.29 करोड़ रुपए का यह टेंडर लगाया गया था। नगर परिषद ने इस प्रोजेक्ट को पूरा करने का समय डेढ़ साल निर्धारित कर रखा है। यानी यह कार्य डेढ़ साल के अंदर-अंदर एजेंसी को पूरा करना होगा।

10 फीट की ड्रेन और 20-

20 फीट चौड़े होंगे रोड

विधायक नरेश कौशिक की मांग पर पिछले दिनों मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रोजेक्ट की चौड़ाई कम करके एक सौ फूट से कम करके 80 फीट के प्रोजेक्ट को स्वीकृति दे दी थी। शहरी स्थानीय निकाय विभाग ने सीएम की इस स्वीकृति का पत्र उपायुक्त को भेज दिया था। 99 फीट की ड्रेन के प्रोजेक्ट के लिए 19 फीट तक के कब्जे बरकरार रहेंगे और सिर्फ 80 फीट पर ही प्रोजेक्ट तैयार किया जाएगा। इसके चलते सैकड़ों भवनों को टूटने से बचा लिया गया था। अब नाला यानी ड्रेन सिर्फ 10 फीट की ही बनेगी। 20-20 फीट के रोड होंगे। पांच-पांच फीट के साइकिल ट्रैक और एक तरफ 10 फीट में पार्किग होगी तो दूसरी तरफ शेष जमीन में फुटपाथ बनाया जाएगा। चौड़ाई कम होने की वजह से ड्रेन पर पहले छोड़ी जाने वाली खाली जमीन अब नहीं रहेगी। प्रोजेक्ट की चौड़ाई कम होने की वजह से 283 कब्जाधारियों को राहत मिलेगी।