Home | Haryana | Bahadurgarh | मरम्मत कार्य करते बिजलीकर्मी 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आकर झुलसा

मरम्मत कार्य करते बिजलीकर्मी 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आकर झुलसा

बिजली निगम में मरम्मत कार्य से संबंधित सूर्या कंपनी का लाइनमैन 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आने से झुलस गया। उसे...

Bhaskar News Network| Last Modified - Apr 11, 2018, 02:00 AM IST

मरम्मत कार्य करते बिजलीकर्मी 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आकर झुलसा
मरम्मत कार्य करते बिजलीकर्मी 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आकर झुलसा
बिजली निगम में मरम्मत कार्य से संबंधित सूर्या कंपनी का लाइनमैन 11 हजार वोल्टेज लाइन की चपेट में आने से झुलस गया। उसे उपचार के लिए शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे में कंपनी के एक सुपरवाइजर की लापरवाही सामने आई है। उसने जिस लाइन पर परमिट लिया था उसकी बजाए लाइनमैन को दूसरी लाइन पर चढ़ा दिया। इस कारण यह हादसा हो गया। घटना के बाद सुपरवाइजर फरार है। अधिकारियों ने उसकी तलाश कराई, लेकिन वह नहीं मिला।

किलोई रोहतक निवासी विनोद सूर्या कंपनी में लाइनमैन के तौर पर काम रहा है। मंगलवार को सेक्टर-9 बाईपास ट्रक यूनियन के नजदीक 11केवी की एलटी लाइन पर केबल बदली जानी थी। इसके लिए मरम्मत वर्क से जुड़े कर्मचारी यहां पहुंचे। बताया गया कि जहां कार्य होना था वहां दो अलग-अलग लाइन हैं। एक एपी फीडर है तो दूसरा सेक्टर-9 हाउसिंग बोर्ड की लाइन है। बिजली के पुराने तारों को बदलकर नई केबल लगाई जानी थी। इसके लिए परमिट भी लिया गया। आरोप है कि सुपरवाइजर ने जिस लाइन के लिए परमिट लिया था उस पर विनोद को न चढ़ाकर दूसरी लाइन पर चढ़ा दिया। इस दौरान उसने हेलमेट और अन्य सेफ्टी बेल्ट भी बांधी हुई थी। ऊपर चढ़ते ही विनोद 11केवी एलटी लाइन पर करंट की चपेट में आ गया। उसे जोरदार झटका लगा। उसके शरीर के कई हिस्से में करंट लगा। यह देख साथी कर्मी सहम गए। उन्होंने किसी तरह लाइन को बंद करके उसे नीचे उतारा। घायलावस्था में उसे शहर के जीवन ज्योति अस्पताल भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत में सुधार बताया जा रहा है। घटना का पता चलते ही परिजनों के अलावा बिजली निगम के अधिकारी और अन्य कर्मचारी व यूनियन से जुड़े नेता उसका हालचाल जानने अस्पताल में पहुंचे।

बहादुरगढ़. करंट से झुलसा लाइनमैन विनोद।

निर्माणाधीन मकान में करंट लगने से श्रमिक की मौत

बहादुरगढ़ | छोटूराम नगर के एक निर्माणाधीन मकान में काम करते समय एक श्रमिक करंट की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत हो गई। वह 3 बच्चों का पिता था। मृतक मुकेश मूल रूप से बिहार का रहने वाला था और लंबे समय से अपने परिवार समेत छोटूराम नगर में ही रह रहा था। इन दिनों वह अपना मकान बना रहा था। मुकेश सोमवार शाम को बिजली के बोर्ड में तार लगा रहा था तो वायरिंग में कट होने के कारण उसे करंट का जोरदार झटका लगा। इसमें उसकी मौत हो गई।

मामले में सुपरवाइजर की लापरवाही सामने आ रही है। इसको लेकर जांच की जा रही है। जो भी आवश्यक कार्रवाई होगी वह निगम की ओर से की जाएगी। संजय, अवर अभियंता बिजली निगम

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now