Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» सीए की बहाली नहीं होने पर सोमवार को झज्जर सर्कल बंद करने का ऐलान

सीए की बहाली नहीं होने पर सोमवार को झज्जर सर्कल बंद करने का ऐलान

सीए संजीव कुमार के निलंबन को लेकर बिजली निगम कर्मचारियों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। पिछले कई दिन से कर्मचारी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 21, 2018, 02:05 AM IST

सीए संजीव कुमार के निलंबन को लेकर बिजली निगम कर्मचारियों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। पिछले कई दिन से कर्मचारी एचएसईबी वर्कर यूनियन के बैनर तले धरना-प्रदर्शन और निगम प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। शुक्रवार को मंडल परिसर कार्यालय में विरोध स्वरूप रोष प्रदर्शन व काम रोको आंदोलन किया। अध्यक्षता राज्य कार्यकारिणी के उप महासचिव जसवंत सिंह और संचालन सर्कल सचिव जयकंवार छिक्कारा ने किया। फरीदाबाद सर्कल से बलबीर कटारिया, एनआईटी यूनिट प्रधान, ब्रजपाल यूनिट सचिव व राजेश सर्कल सेक्रटरी व जींद सर्कल से राजबीर ढिल्लो सर्कल सचिव व राजेश खासा यूनिट सचिव ने रोष प्रदर्शन को समर्थन दिया।

सभा में कर्मचारी नेताओं ने आरोप लगाया कि बिना किसी जांच पड़ताल के द्वेष भावना से सीए संजीव कुमार को अधिकारियों ने निलंबित किया है। अपनी खामियों को छुपाने के लिए अधिकारियों ने यह कार्य किया है। साथ ही चेताया कि अगर रविवार तक सीए को बहाल नहीं किया तो सोमवार को झज्जर सर्कल बंद कर दिया जाएगा। पूर्व उप महासचिव सुनील खटाना ने कहा कि अगर सीए को सोमवार तक बहाल नहीं किया तो मंगलवार को पूरा फरीदाबाद सर्कल बंद कर दिया जाएगा। वीरेंद्र गोयत के अलावा राज्य कार्यकारिणी में उप प्रधान कृष्ण मलिक ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि यदि जल्द सुनवाई नहीं की गई तो पूरे हरियाणा को बंद कर रोष जताया जाएगा। अध्यक्ष ने बताया कि एमडी ने अधिकारियों के कहने से सीए को सस्पेंड किया है, उसमें किसी तरह की कोई जांच नहीं की गई। एचएसईबी वर्कर यूनियन इसकी घोर निंदा करती है। इस मौके पर यूनिट प्रधान बिजेंद्र फौगाट, बलवंत यादव, श्याम सिंह, रविन्द्र, विश्वजीत, रामनिवास, संजीव, राजकुमार, बिजेंद्र, सुनीता, अंजू रानी, मंजू रानी, ऊषा नांदल समेत अनेक निगम कर्मी मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×