--Advertisement--

लंबित मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मी

झज्जर. पुराने नगर पालिका आफिस पर भूख हड़ताल पर बैठे सफाई कर्मचारी। भास्कर न्यूज | झज्जर दमकल केंद्र परिसर में...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:05 AM IST
लंबित मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मी
झज्जर. पुराने नगर पालिका आफिस पर भूख हड़ताल पर बैठे सफाई कर्मचारी।

भास्कर न्यूज | झज्जर

दमकल केंद्र परिसर में बुधवार काे नगर पालिका के तीन कर्मचारी 24 घंटे की भूख हड़ताल पर बैठे गए, जिसमें कुलदीप, टिंकल और विकास शामिल हैं। इन तीनाें कर्मचारियों काे नपा प्रशासन ने गैर हाजिर कर दिया है। क्योंकि ये ड्यूटी पर नहीं पहुंचे। भूख हड़ताल पर बैठे इन कर्मचारियों को सर्व कर्मचारी संघ के प्रदेश सचिव राजेन्द्र जुलाना और जिला प्रधान जयपाल गुढ़ा ने समर्थन दिया।

धरनास्थल पर आयोजित सभा में राजेन्द्र जुलाना ने कहा कि भाजपा अपने चुनाव घोषणा पत्र में किए वादों को पूरा करे। भाजपा ने अपने कार्यकाल में कर्मचारियों की किसी भी मांग को पूरा नहीं किया। कर्मचारियों की मुख्य लंबित मांगों में ठेका प्रथा समाप्त करना, अस्थायी कर्मचारियों को स्थायी करना, जोखिम भत्ता और केन्द्र समान सभी भत्ते देना, डोर टू डोर स्कीम में लगे कर्मचारियों को नगर पालिका का कर्मचारी मानकर बीच से ठेकेदार को हटाना, नई पेंशन प्रणाली को समाप्त करके पुरानी पेंशन प्रणाली लागू करना है। उन्होंने कहा कि 20 मई को मंत्रियों और सांसदों के आवास पर प्रदर्शन कर मांगों से संबंधी ज्ञापन दिए जाएंगे। अध्यक्षता नपा सफाई कर्मचारी संघ के प्रधान आशीष बोहत की।इस मौके पर सीटू नेता सरोज दुजाना, विष्णुदत्त जांगड़ा, राजवंती ने भी सभी को संबोधन किया।

सफाई कर्मचारियों ने भूख हड़ताल कर दी चेतावनी, समाधान न होने पर 9 मई से 3 दिन की करेंगे हड़ताल

भास्कर न्यूज | बहादुरगढ़

लंबित मांगों की अनदेखी व समय पर पूरा वेतन व अन्य सुविधाएं न मिलने को लेकर नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों में रोष बढ़ता ही जा रहा है। बुधवार को कर्मचारियों ने कार्यालय के मुख्य गेट पर ही एक दिन की भूख हड़ताल कर अपना रोष प्रदर्शन किया। साथ में चेताया कि यदि जल्द समाधान नहीं हुआ तो 9 मई से वे 3 दिन की हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर होंगे। 24 घंटे की इस भूख हड़ताल में कर्मचारियों का सर्व कर्मचारी संघ ने भी अपना समर्थन दिया है और उनकी मांगों को पुरजोर तरीके से उठाने की बात कही।बुधवार को सफाई कर्मचारी पहले एकत्रित हुए और बाद में विरोध स्वरूप कई कर्मचारी कार्यालय के मेन गेट के साथ ही एक दिन की भूख हड़ताल पर बैठ गए। जिला प्रधान राजेंद्र तुषामड़, जिला कोषाध्यक्ष लीलाराम, इकाई सचिव राजपाल, जिला सचिव अमित, दिलबाग, श्रीभगवान के अलावा कई कर्मचारी यहां बैठे रहे। वहीं सर्व कर्मचारी संघ से जिला वरिष्ठ उप प्रधान बंसी लाल व ब्लॉक प्रधान बिजेंद्र सैनी ने भी कर्मचारियों के हकों की आवाज पुरजोर तरीके से उठाते हुए भूख हड़ताल पर बैठे सफाई कर्मियों को अपना समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि काफी समय से कर्मचारी अपने हकों व मांगों को पूरा करवाए जाने को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन उसके बाद भी सरकार की ओर से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा।

साथ में न्यूनतम वेतन 15 हजार रूपए दिए जाने, ठेका प्रथा बंद करने, स्थाई भर्ती लागू करने, नेशनल पेंशन स्कीम को रद्द करवाने, पुरानी पेंशन लागू करवाने के लिए आवाज उठाई। साथ में कहा कि 8 मई को शहर में जुलूस निकाला जलाएगा और इसके बाद 9 से लेकर 11 मई तक विरोध स्वरूप ही 3 दिन की हड़ताल की जाएगी। यदि फिर भी सरकार ने कर्मचारियों की मांगों को नहीं माना तो हड़ताल जारी रहेगी।

बहादुरगढ़. नप के बाहर भूख हड़ताल पर बैठे कर्मचारी।

लंबित मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मी
X
लंबित मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मी
लंबित मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..