बहादुरगढ़

  • Home
  • Haryana News
  • Bahadurgarh
  • झज्जर कोर्ट कॉॅम्प्लेक्स में हत्या का आरोपी गिरफ्तार
--Advertisement--

झज्जर कोर्ट कॉॅम्प्लेक्स में हत्या का आरोपी गिरफ्तार

वारदात की फिराक में अशोक प्रधान व नीटू डाबोौदा अपराधी गिरोह के बदमाश को अवैध हथियार के साथ थाना लाइन पार बहादुरगढ़...

Danik Bhaskar

May 05, 2018, 02:05 AM IST
वारदात की फिराक में अशोक प्रधान व नीटू डाबोौदा अपराधी गिरोह के बदमाश को अवैध हथियार के साथ थाना लाइन पार बहादुरगढ़ के एरिया से काबू किया गया है। अपराधी गिरोह का बदमाश नीरज बवाना व बिजेंदर इस्सरहेड़ी को जान से मारने की फिराक में हथियार लिए घूम रहा था। शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में एसपी पंकज नैन ने बताया कि सीआईए प्रभारी बहादुरगढ़ निरीक्षक जसबीर सिंह की टीम ने आरोपी को पकड़ने में सफलता प्राप्त की गई है। उन्होंने बताया कि सीआईए की टीम को देख युवक भागने की कोशिश करने लगा। युवक की तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से एक देसी पिस्तौल व दो जिंदा कारतूस बरामद किए गए। आरोपी की पूछताछ में पहचान रवि निवासी गांव पूठ खुर्द बवाना दिल्ली के तौर पर की गई।

बहादुरगढ़. मोस्ट वांटेड बदमाश रवि उर्फ गौरव उर्फ मोंटी पुलिस गिरफ्त में।

पुरानी कई वारदातों में पुलिस को थी तलाश

एसपी पंकज नैन ने बताया कि अवैध हथियार के साथ पकड़ा गया आरोपी संगीन किस्म की अनेक वारदातों का मोस्ट वांटेड बदमाश निकला। उन्होंने बताया कि रवि अशोक प्रधान व नीटू डाबोदा के आपराधिक गिरोह का शार्प शूटर है। युवक ने पुलिस की जांच में कई खुलासे किए हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाश ने पूछताछ में जिन पांच अपराधिक वारदातों का खुलासा किया है उनमें उसने अपने गिरोह के साथियों के साथ मिलकर राजीव निवासी आसौदा को पुलिस हिरासत में मारने की योजना बनाई थी। योजना के अनुसार उसने साथियों के साथ मिलकर राजीव की 22 मार्च 2017 को झज्जर कोर्ट कॉम्पलेक्स में हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाश रवि को अदालत बहादुरगढ़ में पेश किया गया। जहां से आरोपी को न्यायिक हिरासत भेज दिया गया।

1. गैंगवार की आपसी रंजिश के चलते 10 अप्रैल 2016 को उसने अपने साथियों के साथ मिलकर कृष्ण निवासी बराही की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था।

2. आपसी गैंगवार के चलते मौका पाकर उसने अपने साथियों के साथ मिलकर 18 जुलाई 2016 को रोहित निवासी गांव पूठ खुर्द बवाना की उसके गांव में ही हत्या करने की वारदात को अंजाम दिया था।

3 आपसी रंजिश के चलते उसने गांव पुठ खुर्द में 29 अक्टूबर 2015 को चांद निवासी बवाना को जान से मारने की नियत से गोली मारकर जानलेवा हमला करने की वारदात को अंजाम दिया था।

4. 9 जनवरी 2017 को पैसों के लेनदेन के विवाद पर उसने उत्तम नगर दिल्ली निवासी अकरम पर जान से मारने की नियत से गोली चलाकर जानलेवा हमला किया था।

Click to listen..