Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» ईस्टर्न पेरीफेरल के उद्घाटन की तारीख तीसरी बार बढ़ी 29 अप्रैल की जगह मई अंत तक शुरू होने की उम्मीद

ईस्टर्न पेरीफेरल के उद्घाटन की तारीख तीसरी बार बढ़ी 29 अप्रैल की जगह मई अंत तक शुरू होने की उम्मीद

बहादुरगढ़ कुंडली से जाने वाले ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन अब 29 अप्रैल को नहीं होगा। इसे एक बार फिर टाल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 26, 2018, 02:10 AM IST

ईस्टर्न पेरीफेरल के उद्घाटन की तारीख तीसरी बार बढ़ी 29 अप्रैल की जगह मई अंत तक शुरू होने की उम्मीद
बहादुरगढ़ कुंडली से जाने वाले ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन अब 29 अप्रैल को नहीं होगा। इसे एक बार फिर टाल दिया गया है। अब अधिकारी प्रयास कर रहे हैं कि मई के आखिरी सप्ताह में इसका उद्घाटन हो जाए। इसके लेट होने से वेस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का भी टाइम बढ़ने से बहादुरगढ़ के उद्योगपतियों में निराशा है। यह तीसरी बार हो रहा है जब एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन की तारीख को आगे बढ़ाया गया है। उधर, उद्घाटन की तारीख टल जाने से बहादुरगढ़ से निकलने वाले केएमपी को दो माह से अधिक की मोहलत मिल गई है। अब प्रयास है कि दो माह में यहां का काम पूरा हो जाएगा। इसका काम भी मार्च अंत तक पूरा होना था। पर इस काम में लगातार देरी हो रही है। दिल्ली को प्रदूषण और जाम से मुक्ति दिलाने के लिए 270 किमी लंबे पेरीफेरल एक्सप्रेस वे का निर्माण कराया जा रहा है। इसे इस्टर्न और वेस्टर्न पेरीफेरल के नाम से दो भागों में बांटा गया है।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने की थी घोषणा

बहादुरगढ़ ईस्टर्न व वेस्टर्न दोनों के मध्य में आता है। 135 किमी लंबे ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे का निर्माण फिलहाल अपने अंतिम चरण में है। गत दिनों केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ. सत्यपाल सिंह ने भी इसकी घोषणा करते हुए कहा था कि 29 अप्रैल को इसका उद्घाटन होगा।

फैक्ट्री संचालकों को होगा लाभ

बीसीसीआई के प्रवक्ता मनोज सिंघल ने बताया कि 4 माह से बहादुरगढ़ के उद्योगपति आस लगाए बैठे थे कि यह मार्ग शुरू होगा पर अब भी दो माह और इंतजार करना पड़ेगा। इसके शुरू होने के बाद बहादुरगढ़ के फैक्ट्री संचालकों को हररोज हजारों रुपए का लाभ होगा व आयात-निर्यात तेजी से चलेगा।

तीसरी बार टली उद्घाटन तिथि

ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन की तारीख तीसरी बार बढ़ाई गई है। पिछले साल 28 अप्रैल 2017 को जब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे के निरीक्षण को आये थे तो उन्होंने 15 अगस्त 2017 को प्रधानमंत्री द्वारा इसका उद्घाटन किए जाने की बात कही थी। इसके बाद नितिन गडकरी ने इसकी पुष्टि करते हुए ट्वीट करके बता दिया कि 15 अप्रैल को पीएम नरेन्द्र मोदी इस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कर रहे हैं। इसके बाद 29 अप्रैल की तिथि रखी गई। गत दिनों एनएचएआई के सीजीएम ने अधिकारियों के साथ ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण किया था। निर्माण कर रही कंपनी के अधिकारियों को एक्सप्रेस वे के अधूरे कार्यों को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। एनएचएआई के सीजीएम बीएस सिंगला ने विभागीय अधिकारियों के साथ एक्सप्रेस वे का निरीक्षण किया था।

बहादुरगढ़ क्षेत्र में भी अप्रैल से बढ़कर जून माह तक

का मिला समय

कुंडली-मानेसर-पलवल केएमपी वेस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे के मध्य में बहादुरगढ़ पड़ता है। इसे अप्रैल में शुरू किया जाना था, लेकिन अभी जीटी रोड के दूसरी तरफ का काम भी पूरा नहीं होने पर अब यहां का काम को भी जून अंत तक पूरी तरह चालू होने का समय मिल गया है। वैसे यहां इसका काम 75 फीसदी हिस्सा पूरा हो चुका है।

दो कंपनियों को दिया

गया है काम

एनएच-2 को दिल्ली से बाहर-बाहर होते हुए एनएच-1 से जोड़ने वाली 136 किलोमीटर लंबे छह लेन के पश्चिमी एक्सप्रेस-वे का कार्यान्वयन हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कारपोरेशन (एचआईडीसी) की ओर से दो हिस्सों में बांटकर कराया जा रहा है। पलवल-मानेसर (53 किमी) का कांट्रैक्ट एचएलएस लिमिटेड को, जबकि मानेसर-कुंडली (83 किमी) हिस्सा एस्सेल इंफ्रा को दिया गया है।

पलवल-मानेसर का हिस्सा हुआ पूरा, 5 अप्रैल को खोला

पलवल-मानेसर का हिस्सा पिछले साल पूरा हो गया था जिसे 5 अप्रैल को यातायात के लिए खोल दिया गया था, जबकि मानेसर-कुंडली हिस्से पर काम जारी है। इस परियोजना पर लगभग 9000 करोड़ की लागत आने का अनुमान है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×