--Advertisement--

ईनामी बदमाश इलाज के लिए रुपए लेने गांव आया, गिरफ्तार

बहादुरगढ़ . ईनामी बदमाश को पकड़ने की जानकारी दते एएसपी लोकेंद्र सिंह। भास्कर न्यूज | बहादुरगढ़ पुलिस टीम ने...

Dainik Bhaskar

Apr 27, 2018, 02:10 AM IST
ईनामी बदमाश इलाज के लिए रुपए लेने गांव आया, गिरफ्तार
बहादुरगढ़ . ईनामी बदमाश को पकड़ने की जानकारी दते एएसपी लोकेंद्र सिंह।

भास्कर न्यूज | बहादुरगढ़

पुलिस टीम ने गोयला कलां डबल मर्डर सहित छीना-झपटी के मामले में मोस्ट वांटेड एक लाख के ईनामी बदमाश रवि को गिरफ्तार किया है। जिले की स्पेशल स्टाफ टीम ने यह सफलता हासिल की है। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद से ही वह फरार चल रहा था। गांव में जब वह अपने दिल का इलाज करवाने के लिए पैसे लेने आया तो पकड़ा गया। इस मामले में तत्कालीन सरपंच जयपाल समेत 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज हुआ था।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान एएसपी लोकेन्द्र सिंह ने बताया कि एसआई जसबीर सिंह के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम गठित की गई थी। जब टीम गांव लोवा खुर्द व नूना माजरा के पास गश्त पर थी तब लोवा खुर्द गांव की ओर से एक युवक आता दिखाई दिया। पुलिस टीम को देखकर युवक ने भागने का प्रयास किया, लेकिन टीम ने उसे काबू कर लिया। पूछताछ के दौरान युवक ने अपना नाम रवि निवासी लोवा खुर्द बताया। एएसपी लोकेन्द्र सिंह ने बताया कि जब युवक का रिकाॅर्ड खंगाला गया व उससे पूछताछ की गई तो उसने डबल मर्डर मामले का खुलासा किया। आरोपी ने बताया कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव गोयला कलां के संजय व वजीर की 25 जून 2017 को हत्या की थी। इस मामले में सदर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। तभी से हत्यारोपी रवि फरार चल रहा था। इसी को लेकर पुलिस ने उस पर एक लाख का ईनाम घोषित कर रखा था। इसके अलावा रवि व उसके साथियों पर जाखौदा के बस स्टैंड के पास हथियारों के बल पर मारुति ब्रेजा गाड़ी छीनने का भी ममला दर्ज है। एसएसपी लोकेन्द्र सिंह ने बताया कि रवि के खिलाफ कई और मामले भी दर्ज हैं। जिनमें लड़ाई-झगड़े के अलावा भोंडसी (गुरुग्राम) में फायरिंग करके एक प्लाट पर कब्जा करने का भी आरोप है। एएसपी ने बताया कि मोस्ट वांटेड ईनामी बदमाश हृदय रोग से पीड़ित है और इलाज के पैसे लेने के लिए वह गांव आया हुआ था। इस दौरान वह पुलिस द्वारा गठित स्पेशल टीम के हत्थे चढ़ गया। आरोपी को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे 2 दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया है।

गाड़ी खड़ी करने के विवाद में हुई थी हत्या

25 जून 2017 को गोयला कलां गांव में गौरव के बेटा होने की खुशियां मनाई जा रही थी। घर के बाहर गाड़ी खड़ी करने को लेकर भूप सिंह व सुनील पक्ष के बीच कहासुनी हो गई। इसमें ताबड़तोड़ गोलीबारी होने लगी। इसमें एक पक्ष के संजय (38) व वजीर (32) की मौत हो गई। इनमें संजय को 13 गोलियां लगी थीं जबकि वजीर को 8 गोली लगीं। मृतक संजय के पिता ओमप्रकाश की शिकायत पर गांव के सरपंच जयपाल सिंह सहित 8 लोगों के खिलाफ हत्या का अभियोग दर्ज किया है। सदर थाना प्रभारी जसबीर के अनुसार जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

X
ईनामी बदमाश इलाज के लिए रुपए लेने गांव आया, गिरफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..