• Home
  • Haryana News
  • Bahadurgarh
  • बिल अदायगी के बाद भी घरों तक नहीं पहुंचा पानी, सीएम विंडो पर देंगे शिकायत
--Advertisement--

बिल अदायगी के बाद भी घरों तक नहीं पहुंचा पानी, सीएम विंडो पर देंगे शिकायत

एक तरफ तो जनस्वास्थ्य विभाग पेयजल कनेक्शन को वैध कराने पर जोर दे रहा है तो दूसरी तरफ जिन लोगों ने विभागीय नियमों की...

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 02:10 AM IST
एक तरफ तो जनस्वास्थ्य विभाग पेयजल कनेक्शन को वैध कराने पर जोर दे रहा है तो दूसरी तरफ जिन लोगों ने विभागीय नियमों की पालना सुनिश्चित करते हुए कनेक्शन तक लिए हुए हैं उनके घरों तक एक बूंद पानी की आपूर्ति तक नहीं की जा रही। जिससे लोगों में रोष बना हुआ है। यही नहीं बिना पानी सप्लाई के उनके घरों पर भेजे गए बिल की अदायगी तक लोगों ने कर दी है पर उसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ है। बार-बार कार्यालय के चक्कर काटकर थक चुके उपभोक्ता ने अब सीएम विंडो व उच्च प्रशासनिक अधिकारियों के संज्ञान में यह मामला लाए जाने की बात कही है।

शास्त्री नगर निवासी राजू गोयल, मनोज कुमार के अलावा कई अन्य ने बताया कि शास्त्री नगर गली नंबर-3 के अनेक घरों में पेयजल के कनेक्शन होने के बाद भी पानी की आपूर्ति नहीं हो रही। उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से उन्हें बिल भी भेज दिया गया। जिसे लोगों ने सरचार्ज न लगे इसको लेकर उसकी अदायगी तक भी बिना पानी आए कर दी। पर जब पानी सप्लाई के लिए उन्होंने जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को शिकायत की तो उसके बाद भी कोई समाधान नहीं किया गया। उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से बिछाई हुई लाइन की टी को मुख्य लाइन से नहीं जोड़ा गया है, जबकि गली में काफी समय पहले ही लाइन बिछाई हुई है। जहां से पानी की सप्लाई होनी है उस लाइन से उनके घरों की ओर जाने वाली लाइन का कनेक्शन तक नहीं किया हुआ है। गोयल ने बताया कि उसके भाई मनोज कुमार के नाम से पेयजल का कनेक्शन है जिसका नंबर 2906515 है। पानी की सप्लाई करने की बजाय विभाग की ओर से उनके यहां नियमित बिल तो भेजा जा रहा है, लेकिन आपूर्ति नहीं की जा रही। बिना पानी के रोजमर्रा के कार्य भी प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि पानी की व्यवस्था करने के लिए उन्हें दूर-दराज जाना पड़ता है। उपभोक्ता मनोज का आरोप है कि इस समस्या के समाधान को लेकर वह कई बार विभागीय कार्यालय के चक्कर काटकर थक चुका है। यहां तक कि बिना पानी पहुंचे ही विभाग की ओर से उसके यहां भेजे जा रहे बिल की अदायगी भी समय पर की जा रही है। उसके बाद भी विभाग की ओर से ध्यान न दिया जाना कहीं न कहीं लापरवाही या फिर ढुलमुल कार्रवाई उजागर हो रही है। उपभोक्ता ने बताया कि यदि उसकी समस्या का हल नहीं हुआ तो वह सीएम विंडो में भी शिकायत दर्ज कराएगा।

उपभोक्ताओं को स्वच्छ जलापूर्ति होगी

इस मामले में जनस्वास्थ्य अभियांत्रिक विभाग के उपमंडल अभियंता अनिल रोहिल्ला से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनके संज्ञान में ऐसा मामला नहीं आया था। बिल भरने के बाद भी पानी घर तक क्यों नहीं पहुंच रहा इसको लेकर लाइन व कनेक्शन की जांच कराई जाएगी। यदि कहीं से कनेक्शन ज्वाइंट नहीं किया है तो उसे भी जल्द जोड़कर समस्या समाधान कर दिया जाएगा। विभाग की ओर से उपभोक्ताओं को बेहतर स्वच्छ जलापूर्ति मुहैया करवाई जा रही है।