--Advertisement--

तीसरे दिन भी नहीं बनी सहमति, सड़कों पर 150 टन कचरा

लंबित मांगों को लेकर नगर परिषद सफाईकर्मियों की हड़ताल के तीसरे दिन शुक्रवार को भी शहर में सफाई व्यवस्था ठप रही,...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 02:10 AM IST
तीसरे दिन भी नहीं बनी सहमति, सड़कों पर 150 टन कचरा
लंबित मांगों को लेकर नगर परिषद सफाईकर्मियों की हड़ताल के तीसरे दिन शुक्रवार को भी शहर में सफाई व्यवस्था ठप रही, लेकिन प्रशासन चाह कर भी कुछ नहीं कर पाया। डीसी के शहर में होने के बावजूद नप और सफाई ठेकेदारों ने कूड़ा नहीं उठवाया। शहर के अन्य क्षेत्रों के साथ-साथ सिविल अस्पताल के पास भी कई टन कचरा एकत्रित हो गया है, जो हवा के साथ वाहन चालकों पर उड़ रहा है। नगर परिषद कर्मचारियों की हड़ताल के चलते पिछले 72 घंटों से पूरा शहर सड़ रहा है। डेढ़ दर्जन से अधिक स्थानों पर कूड़े के ढेर लगे हैं। अगर सफाई कर्मचारियों की हड़ताल बेमियाद चली जाती है तो शहर कूड़े के ढेर में तब्दील हो जाएगा। पिछले तीन दिन से शहर में साफ सफाई नहीं होने से ही हालात बद से बत्तर हो गए हैं। ऐसे में अगर एक या दो दिन और हड़ताल जारी रहती है तो फिर शहर का क्या होगा? नप अधिकारियों की मानें तो पूरे शहर से रोजाना 50 टन कचरा निकलता है, जिसे नगर परिषद के सफाई कर्मचारी ट्रैक्टर ट्राली के जरिए शहर के नया गांव के निकट कचरा प्वाइंट पर डालते हैं।

बहादुरगढ़. हड़ताल के चलते सड़कों पर लगे कूड़े के ढेर।

सफाईकर्मियों ने उठाई आवाज

शुक्रवार को भी नगर परिषद कार्यालय गेट पर बैठकर सफाईकर्मियों ने अपनी आवाज पुरजोर से उठाई और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। हड़ताल में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने भी समर्थन दिया है। एसकेएस से जुड़े अनेक विभागों के कर्मचारी नेताओं ने सफाईकर्मियों की आवाज बुलंद करते उनकी मांगों को जल्द पूरा करने के लिए सरकार से मांग की है। सफाई कर्मचारियों ने बताया कि पंचकूला में राज्य कार्यकारिणी की बैठक चल रही है। लगातार सरकार से भी बातचीत की जा रही है। राज्य कार्यकारिणी की ओर से लिए गए फैसले के अनुसार ही आंदोलन को अगला रुख दिया जाएगा।

वेस्ट जुआ ड्रेन पुल किनारे

पड़ा कूड़ा

लाइनपार क्षेत्र के अलावा शहर के अनेक वार्डों, रेलवे रोड, नाहरा-नाहरी रोड समेत कई अन्य प्रमुख मार्गों पर दिनभर कूड़ा सड़ता रहा। इससे आसपास के दुकानदारों और यहां रहने वाले लोगों का जीना दुश्वार हो गया। रेलवे रोड की स्थिति यह है कि वेस्ट जुआ ड्रेन पुल किनारे कूड़ा लगभग आधी सड़क के बीचों-बीच बिखरा पड़ा है। राहगीरों का यहां से निकलना दूभर हो गया है।

नगर पालिका सफाई कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

झज्जर. प्रदर्शन करते नगर पालिका के सफाई कर्मचारी

झज्जर | नगर पालिका कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर तीन दिवसीय हड़ताल के अंतिम दिन शहर भर में प्रदर्शन करके सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों ने कहा कि सरकार द्वारा वायदा किया गया था कच्चे कर्मचारियों को पक्का करेंगे, ठेकेदारी प्रथा बन्द करेंगे, लेकिन सरकार निकम्मी निकली और न वायदे पूरे किए ओर न ही कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान किया। बल्कि इस सरकार के आने के बाद प्रत्येक वर्ग का कर्मचारी विरोध प्रदर्शन कर रहा है। जिला प्रधान आशीष ने कहा कि पूरे प्रदेश में मांगो को लेकर कर्मचारियों द्वारा हड़ताल की गई है। हड़ताल के दौरान तीन दिन तक कोई भी कर्मचारी काम पर नहीं गया। अगर सरकार अब भी हमारी मांगे पूरी नहीं करती है तो इससे भी बड़ा आंदोलन किया जाएगा। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि सफाई कर्मचारियों की मांगों को सरकार हल्के में ले रही है। कर्मचारी अपने हकों के लिए सरकार से कई बार गुहार लगा चुके है। लेकिन सरकार ने अभी तक कोई समाधान नहीं निकाला है। नेताओं ने कहा कि जब तक उनकी मांगों का समाधान नहीं किया जाता तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। हड़ताल में महिला कर्मचारियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

तीसरे दिन भी नहीं बनी सहमति, सड़कों पर 150 टन कचरा
X
तीसरे दिन भी नहीं बनी सहमति, सड़कों पर 150 टन कचरा
तीसरे दिन भी नहीं बनी सहमति, सड़कों पर 150 टन कचरा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..