--Advertisement--

1260 विद्यार्थियों को लगाए खसरा-रूबेला के टीके

शहर के राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित एक स्कूल में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से चलाए जा रहे खसरा-रूबेला...

Dainik Bhaskar

Apr 29, 2018, 02:10 AM IST
1260 विद्यार्थियों को लगाए खसरा-रूबेला के टीके
शहर के राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित एक स्कूल में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से चलाए जा रहे खसरा-रूबेला टीकाकरण की शुरुआत की गई। इस अभियान में 88 प्रतिशत टारगेट करते हुए विद्यालय के 1260 विद्यार्थियों को टीके लगाकर खसरा-रूबेला जैसी घातक बीमारी से बच्चों को छुटकारा दिलाने के लिए पहल की गई। साथ ही बच्चों को टीकाकरण कार्ड भी दिया गया।

अभियान में डॉक्टरों की 5 टीमों ने 15 वर्ष तक की आयु के सभी बच्चों को टीके लगाए। सीएमओ डॉ. जयमाला, नोडल अधिकारी डॉ. वाईके शर्मा, डॉ. विनय, डॉ. ममता और डॉ. अजय व सत्येंद्र दहिया ने सहयोग किया। उपमंडल विधिक सेवा समिति सदस्य सत्येंद्र दहिया ने बताया कि खसरा-रूबेला से बचाव का टीका 15 वर्ष की आयु तक के शत-प्रतिशत बच्चों को लगाना अति आवश्यक है। ताकि पूर्ण प्रतिरक्षण कर इन घातक बीमारियों से छुटकारा पाया जा सके। स्कूल प्रिंसिपल एस. कालीरमण ने विद्यालय में सफल टीकाकरण अभियान के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम अध्यापक वर्ग एवं अभिभावकों का धन्यवाद किया। इस अवसर पर विद्यालय की नोडल अफसर पुनीता चौधरी आशुतोष सर्राफ जय भगवान, जितेंद्र जून सहित सभी अध्यापकों ने सहयोग किया। दूसरी ओर श्रीरामा भारती विद्यालय में 86 प्रतिशत टीकाकरण किया गया। अभियान डॉ. गगन जैन और डॉ. उमेश शर्मा की देखरेख में चला।

बादली. रूबेला टीकाकरण होने के बाद होली फेथ स्कूल की बच्ची।

प्राइवेट-सरकारी स्कूलों में बच्चों को लगाएं खसरा-रूबेला के टीके

बादली | खसरा-रूबेला कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को बादली स्वास्थ्य विभाग ने बुपनियां के होली फेथ स्कूल, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के अलावा बादली के टीआरएच स्कूल में विद्यार्थियों को खसरा-रूबेला के टीके लगाए। शुभारंभ बादली सीएचसी कि एसएमओ डॉ. संगीता खुराना ने किया। स्कूल में पहुंचे स्वास्थ्य विभाग की टीम डॉ. प्रशांत, एएनएम नवीन, कांता मलिक, मूर्ति देवी, आशा वर्कर और आंगनबाड़ी वर्कर्स की टीम ने बच्चों को खसरा-रूबेला बीमारी के टीके लगाए। एसएमओ ने कहा कि कार्यक्रम के दौरान विभिन्न स्कूलों में बच्चों को रूबेला के टीके लगाए जा रहे हैं। जो बच्चे किसी कारणवश स्कूल में टीके लगाने से वंचित रह जाते हैं उन बच्चों के बारे में स्कूल प्रबंधन से आग्रह कर रहे हैं कि उन बच्चों को बादली सीएचसी में लाकर उन्हें रूबेला के टीके अवश्य लगवाएं। स्कूल प्राचार्या मीना देवी व कुलदीप जून भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को स्कूल स्टाफ का सहयोग मिला।

बच्चों को कबलाना में भी लगे टीके

झज्जर | कबलाना गांव के स्कूल में हरियाणा सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से रुबेला और खसरा नामक भयंकर बीमारियों से बचाने के लिए टीकाकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें कक्षा एलकेजी से दसवीं तक के विद्यार्थियों को खसरा, रुबेला से बचाने के टीके लगाए गए। नेतृत्व जहांगीरपुर की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ज्योति दहिया ने किया। 9 माह से 15 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण किया गया। इस दौरान स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ साथ अभिभावकगण भी उपस्थित रहे। विद्यालय प्रधानाचार्य उषा चौहान ने स्वास्थ्य विभाग की टीम का आभार प्रकट किया।

X
1260 विद्यार्थियों को लगाए खसरा-रूबेला के टीके
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..