Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» पेड़ गिरने से माइनर टूटी, नर्सरी में भरा 3 फीट पानी, 1 लाख पौधे खराब होने के कगार पर

पेड़ गिरने से माइनर टूटी, नर्सरी में भरा 3 फीट पानी, 1 लाख पौधे खराब होने के कगार पर

माइनर टूटने से सुबह नहीं हो पाई सप्लाई, दोपहर बाद कुछ स्थानों पर पानी पहुंचा, विधायक ने किया मुआयना, मरम्मत कार्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 02:10 AM IST

पेड़ गिरने से माइनर टूटी, नर्सरी में भरा 3 फीट पानी, 1 लाख पौधे खराब होने के कगार पर
माइनर टूटने से सुबह नहीं हो पाई सप्लाई, दोपहर बाद कुछ स्थानों पर पानी पहुंचा, विधायक ने किया मुआयना, मरम्मत कार्य शुरू

भास्कर न्यूज | बहादुरगढ़

जन स्वास्थ्य विभाग के टैंकों में पेयजल कम होने पर शहर और आसपास के क्षेत्र में इसका संकट पहले से ही था, लेकिन रविवार रात आए तूफान ने कसर पूरी कर दी। साखौल नर्सरी के पास बहादुरगढ़ माइनर के किनारे पर पेड़ टूटने से माइनर में दरार आ गई। कुछ देर में दरार बढ़ने से माइनर में तीन फीट तक पानी भर गया। सोमवार सुबह इसकी खबर लगी तो दरार भरने का काम शुरू किया गया। शाम तक दरार को भर दिया पर वन विभाग की नर्सरी से पानी निकासी की कोई व्यवस्था नहीं हो सकी। नर्सरी में पानी भरने से करीब एक लाख एक हजार 500 पौधे नष्ट होने के कगार पर है। वन विभाग के अधिकारियों को भी कुछ समझ में नहीं आ रहा वे एक लाख पौधों को कैसे बचाएं? क्योंकि नर्सरी में पानी भरे 24 घंटे हो चुके हैं। पानी निकालने की कोई व्यवस्था नहीं हो रही। अभी केवल माइनर का किनारा ठीक करने का प्रयास किया जा रहा है। अलसुबह 4 बजे से पेयजल की सप्लाई का काम शहर के चार बूस्टिंग स्टेशनों से शुरू हो जाता है, लेकिन सोमवार को बूस्टिंग में बिजली की सप्लाई नहीं होने से पेयजल की सप्लाई नहीं हो पाई। रही सही कसर माइनर के टूटने से पूरी हो गई। क्योंकि जन स्वास्थ्य विभाग के चारों टैंकों में रात 11 बजे के बाद से पानी की सप्लाई नहीं होने के कारण वह भी खाली होने लगे। अब मंगलवार तक माइनर से पानी की सप्लाई सामान्य हो गई तो स्थिति पर काबू पाया जा सकता है। पानी की सप्लाई बंद होने की भी प्रशासन की ओर से लोगों को कोई जानकारी नहीं दी गई। सुबह लोग जन स्वास्थ्य विभाग पहुंचे तो उन्हेें माइनर टूटने और बूस्टिंग स्टेशन पर बिजली सप्लाई बंद होने की जानकारी मिल पाई।

बहादुरगढ़. माइनर टूटने सेे नर्सरी में भरा पानी।

जून माह में वन महोत्सव पर लगने थे पौधे

दिल्ली-रोहतक रोड स्थित सांखौल के निकट वन विभाग की नर्सरी में एक लाख एक हजार पांच सौ पौधे तैयार किए गए थे, जिन्हें जून माह में वन महोत्सव के मौके पर लगाना था। यह पौध एक से दो फीट तक के हो गए थे। तीन से चार फीट पानी भरने से सभी पौधे नष्ट होने के कगार पर हैं। वन अधिकारी विरेंद्र ने बताया कि प्रशासन से नर्सरी से पानी निकलने के लिए कह चुके हैं पर अभी तक केवल माइनर की दरार भरने में ही लगे हैं। दो माह से जून-जुलाई के लिए पौध तैयार कर रहे थे। अब दूसरी नर्सरियों से पौधे मंगवाने पड़ेंगे। इनमें नीम, पीपल, शीशम व अर्जन के साथ कई पौधों की वेराइटी थी।

12 घंटे गायब रही बिजली

शहर में रविवार रात आए तूफान से बिजली के पोल और तार टूटने से बिजली गुल हो गई। करीब 20 मिनट तक बारिश हुई। तूफान के कारण सेक्टर-2 में एक पेड़ गिरने से वाहन चालक बाल-बाल बचे। वहीं, झज्जर रोड पर स्ट्रीट लाइट का खंभा टूट कर बिजली की तार पर झूल गया। इससे भी बड़ा हादसा होने से बच गया। रविवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 10 बजे तक बिजली गायब रहने से लोगों को परेशान रहे। 12 घंटे बिजली की सप्लाई नहीं होने से पानी के लिए भी तरस गए। हालांकि बिजली निगम अधिकारी और कर्मचारी रात में ही छोटे फाल्ट ठीक करने लग गए थे। जहां की फाल्ट मिला उसे ठीक किया। इसके बाद सुबह टूटे पोल और तार ठीक करने में लगे रहे। इसके बाद शहर में बिजली की सप्लाई हो सकी। बहादुरगढ़ जन स्वास्थ्य विभाग के पांच टैंक हुडा विभाग के तीन टैंकों में इस माइनर से 35 क्यूसिक पानी की सप्लाई होती है। इन दिनों केवल 23 से 25 क्यूसिक तक ही पानी की सप्लाई हो पा रही है, जिससे पेयजल का संकट बना है। गत माह इसी संकट को कम करने के लिए इसमें पानी की मात्रा को बढ़ाया था, वह भी टूट गई थी।

किनारों को किया

जाएगा पक्का

खबर लगते ही नहर विभाग के अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर इसकी दरार को भरने का काम शुरू कर दिया है। इसके किनारों को पक्का करने को कहा गया है। अब जल्द ही इसके किनारों को पक्का किया जाएगा, जिससे भविष्य में पेयजल इस तरह से नष्ट नहीं हो सके। -जगनिवास, एसडीएम बहादुरगढ़।

शहर के सभी टैंक घरों को भरा जाए : विधायक

गर्मी के मौसम में शहरवासियों को पेयजल आपूर्ति निर्बाध रूप से मिले, इसके लिए जनस्वास्थ्य, सिंचाई और बिजली विभाग आपसी तालमेल रखते हुए शहर के सभी जलघरों के टैंक भरवाएं। ताकि लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े। यह बात विधायक नरेश कौशिक ने सोमवार को बहादुरगढ़ माइनर और वाटर सर्विस का मांडौठी रोड पर निरीक्षण करते हुए कही।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×