Hindi News »Haryana »Bahadurgarh» ईश्वर के सत्य स्वरूप की पहचान जरूरी: राजू भाई

ईश्वर के सत्य स्वरूप की पहचान जरूरी: राजू भाई

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के सेक्टर-2 स्थित विश्व शांति भवन में रविवार काे दो दिवसीय योग...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 07, 2018, 02:15 AM IST

ईश्वर के सत्य स्वरूप की पहचान जरूरी: राजू भाई
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के सेक्टर-2 स्थित विश्व शांति भवन में रविवार काे दो दिवसीय योग तपस्या का कार्यक्रम किया गया। इसमें मुख्य वक्ता राजयोगी ब्रह्माकुमार राजू भाई ने कहा कि परमात्मा से शक्तियां प्राप्त करने के लिए ईश्वर के सत्य स्वरूप को पहचान उनसे सर्व संबंध जोड़ना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि मन को व्यर्थ से मुक्त करने के लिए विचारों की क्वालिटी को चैक कर व्यर्थ में नकारात्मक विचारों पर ब्रेक लगानी है। निरंतर मेडिटेशन के अभ्यास से नकारात्मक विचारों पर कंट्रोल किया जा सकता है। हमें दूसरों की कमी न देख कर उनकी विशेषताओं को ही देखना चाहिए। अंत में संस्था प्रभारी बहन अंजलि, बहन विनिता, बहन रेणु, भाई सुरेंद्र गुप्ता, संदीप भाई, रामफल भाई, रोहताश भाई सहित सभी भाई-बहनों ने धन्यवाद अदा करते सभी का आभार प्रकट किया।

बहादुरगढ़. योग तपस्या कार्यक्रम में मोमबत्ती हाथ में लेकर ब्रह्माकुमार राजू भाई के प्रवचन सुनते अनुयायी।

खेड़ी जट में भागवत कथा से पूर्व निकाली कलश यात्रा

झज्जर |
शिव मंदिर खेड़ी जट में रविवार को श्रीमद्भागवत कथा कलश यात्रा के साथ शुरू हुई। इसका समापन मंगलवार को भंडारे के साथ किया जाएगा। भागवत कथा पाठ के चौथे दिन रविवार को कथा वाचक भगवन दास ने रूकमणि विवाह का सुंदर चित्रण किया। कथा में काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। विक्की ने बताया कि समापन पर विशाल भंडारे का आयोजन किया जाएगा। कलश यात्रा में विक्की, अनिल, जयभगवान, अमित, कर्मबीर पुनिया सहित महिलाएं व ग्रामीण शामिल रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bahadurgarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×