--Advertisement--

मलेशिया से नहीं लौटे तीनों युवक

मलेशिया गए बरवाला के युवक प्रवीन व सुनील तथा नारनौंद के सुनील गुरुवार को वापस नहीं लौटे। युवकों ने परिजनों को...

Dainik Bhaskar

Feb 09, 2018, 04:05 AM IST
मलेशिया से नहीं लौटे तीनों युवक
मलेशिया गए बरवाला के युवक प्रवीन व सुनील तथा नारनौंद के सुनील गुरुवार को वापस नहीं लौटे। युवकों ने परिजनों को मैसेज किया कि बिचौलिए ने उन्हें दूसरे काउंटर पर भेज दिया। इसके चलते एयरपोर्ट से फ्लाइट निकल गई। युवकों ने कहा कि वे सुबह 5 बजे एयरपोर्ट पर पहुंच गए थे। मलेशिया से युवक वापस नहीं लौटे तो नाराज परिजनों ने गुरुवार शाम को स्थानीय पुलिस चौकी के समक्ष विरोध प्रदर्शन किया।

परिजनों ने कहा कि पुलिस अभी तक मामले के आरोपितों को ना ही तो काबू कर सकी है और ना ही उनके बच्चों को मलेशिया से वापस लौटाने के लिए कोई कदम उठा रही है। युवकों ने परिजनों के पास संदेश भेजा है कि उन्होंने साजिद खान से बात की तो उसने उन्हें अपने फ्लैट पर बुला लिया। अब उसने कहा है कि रात को टिकट कन्फर्म करवाकर उन्हें रवाना कर दिया जाएगा। पुलिस चौकी में पहुंचे युवकों के परिजनों को शांत करते हुए चौकी प्रभारी जयपाल सिंह ने कहा कि शुक्रवार दोपहर बाद तक युवक भारत पहुंच जाएंगे। गुरुवार को फ्लाइट मिस होने के चलते वे वापस नहीं लौट सके। उन्होंने परिजनों को आश्वस्त करते हुए कहा कि मामले के संबंध में आरोपितों के खिलाफ उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

बता दें कि बुधवार को आरोपित बलवंत सैन ने कहा था कि तीनों लड़के गुरुवार को इंडिया पहुंच जाएंगे उन्हें पासपोर्ट व टिकट उपलब्ध करवा दी गई है। इसके बाद युवकों ने पासपोर्ट व टिकट मिलने की जानकारी सोशल मीडिया पर डाल दी थी लेकिन गुरुवार को सुबह जब वे एयरपोर्ट गए तो बिचौलिए द्वारा गलत जानकारी देने के कारण वे एयरपोर्ट पर दूसरे काउंटर पर पहुंच गए जिसके चलते उनकी फ्लाइट मिस हो गई। उल्लेखनीय है कि सुनील, प्रवीन व सुनील से डेढ-डेढ लाख रुपए लेकर बलवंत सैन व उसके लड़के चंद्र प्रकाश ने उन्हें मलेशिया में नौकरी दिलवाने की बात कही थी। लेकिन जब तीनों युवक एक माह पहले मलेशिया पहुंच गए तो उन्होंने परिजनों को जानकारी भेजी कि उन्हें यहां नौकरी नहीं मिली और उनसे बंधुवा जैसा काम करवाया जा रहा है। परिजन जब पुलिस के पास पहुंचे तो पुलिस ने प्रवीन के भाई जितेंद्र की शिकायत पर बरवाला निवासी बलवंत सैन व मलेशिया गए हुए उसके पुत्र चंद्र प्रकाश पर भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 406 व 120बी के तहत केस दर्ज किया था।

परिजनों ने पुलिस चौकी के बाहर किया प्रदर्शन

गुरुवार को फ्लाइट मिस होने के कारण वापस नहीं लौट सके, पुलिस के आश्वासन देने पर शांत हुए परिजन

पुलिस चौकी के बाहर नारेबाजी करते मलेशिया गए युवकों के परिजन।

तीनों युवकों को मिला टिकट, आज घर पहुंचने की उम्मीद

वहीं देर शाम मलेशिया गए तीनों युवकों ने मलेशिया के एयरपोर्ट से अपनी टिकट दिखाते हुए संदेश भेजा है कि उन्हें टिकट मिल गई है। भारतीय समय के अनुसार गुरुवार रात को 8 बजे तीनों युवक वायुयान में भारत लौटने के लिए बैठ चुके हैं। यदि सबकुछ ठीक ठाक रहा तो तीनों युवक शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे तक दिल्ली के एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे।

X
मलेशिया से नहीं लौटे तीनों युवक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..