Hindi News »Haryana »Barwala» ठगी के आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग पर परिजनों ने फूंका पुलिस प्रशासन का पुतला

ठगी के आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग पर परिजनों ने फूंका पुलिस प्रशासन का पुतला

मलेशिया में नौकरी दिलवाने के नाम पर युवकों से डेढ़-डेढ़ लाख रुपए ऐंठने के आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 14, 2018, 04:10 AM IST

मलेशिया में नौकरी दिलवाने के नाम पर युवकों से डेढ़-डेढ़ लाख रुपए ऐंठने के आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर युवकों के परिजनों ने मंगलवार को पुलिस प्रशासन का पुतला फूंका। इससे पहले काफी संख्या में लोग धरनास्थल पर एकत्रित हुए व शहर में पुतला लेकर प्रदर्शन करते हुए दौलतपुर चौक पर पहुंचे। यहां उन्होंने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए पुलिस प्रशासन के पुतले को आग के हवाले कर दिया।

प्रदर्शन की अगुवाई एडवोकेट राजेश श्योकंद ने की। तीसरे दिन धरने पर माटी कला बोर्ड के पूर्व चेयरमैन भूपेंद्र गंगवा ने भी शिरकत की। उधर मामले में आरोपित चंद्र प्रकाश व कई लोग नपा चेयरपर्सन प्रतिनिधी पंकज बादल व पार्षद पुनीत जावा की अगुवाई में डीएसपी जयपाल सिंह व थाना प्रभारी मनोज कुमार से मिले।

यहां उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि चंद्र प्रकाश व उसके पिता बलवंत सैन पर पुलिस ने जो मुकदमा दर्ज किया है वह पूरी तरह गलत है। वहीं, तीन दिनों से पुलिस चौकी के समक्ष चंडीगढ़ मार्ग पर धरना लगाए बैठे ठगी का शिकार हुए युवकों के परिजनों ने दिन भर पुलिस प्रशासन को कोसा व नारेबाजी की। धरनारत लोगों ने कहा कि जब तक उन्हें न्याय नहीं मिल जाता व आरोपितों को गिरफ्तार नहीं कर लिया जाता उनका आंदोलन जारी रहेगा।

धरने पर बैठे लोगों ने कहा कि आरोपित चंद्र प्रकाश स्वयं पुलिस के समक्ष कह चुका है कि उसने मलेशिया जाने के नाम पर राशि ली है और उसने कंपनी में काम भी दिलवाया। इस सबके बावजूद पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। पीडि़त युवक बरवाला निवासी सुनील व प्रवीन तथा नारनौंद निवासी सुनील ने कहा कि उन्होंने मलेशिया में 14 दिन काम किया है। इसके एवज में जो भी राशि मिली वह भी चंद्र प्रकाश हड़प गया। बता दें कि बरवाला निवासी सुनील व प्रवीन उर्फ सिटू तथा नारनौंद निवासी सुनील से मलेशिया में नौकरी दिलवाने के नाम पर डेढ़-डेढ़ लाख रुपये लिए गए थे। आरोपित चंद्र प्रकाश व उसके पिता बलवंत सैन ने तीनों युवकों को मलेशिया भिजवा भी दिया था। पुलिस में मामला आने के बाद तीनों युवकों को आरोपित चंद्र प्रकाश के पिता बलवंत सैन ने वहां से बुलवा लिया था। चंद्र प्रकाश भी तीनों युवकों के साथ मलेशिया से आया था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Barwala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×