• Home
  • Haryana News
  • Barwala
  • मानसिक रूप से परेशान क्लर्क ने सल्फाॅस खाया
--Advertisement--

मानसिक रूप से परेशान क्लर्क ने सल्फाॅस खाया

स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्लर्क के पद पर नियुक्त शहर के वार्ड 1 निवासी सुरेश कुमार ने सल्फास निगल कर...

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 04:10 AM IST
स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्लर्क के पद पर नियुक्त शहर के वार्ड 1 निवासी सुरेश कुमार ने सल्फास निगल कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। आरोप है कि सुरेश ने अपने पड़ोस में रहने वाले कुछ लोगों द्वारा मानसिक प्रताडऩा देने के चलते यह कदम उठाया है। पुलिस ने बुधवार को पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया है। शाम को सुरेश कुमार का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

सुरेश कुमार पूर्व पार्षद मांगेराम के पुत्र थे। पुलिस ने 42 वर्षीय मृतक सुरेश कुमार के छोटे भाई संजय की शिकायत पर करीबन एक दर्जन लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 306, 506 सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। जिन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इनमें वार्ड एक निवासी प्रवीन, पवन, सरला, अरुण, सावन, साहिब सिंह, सौरभ, रमेश व 2-3 अन्य शामिल हैं। पुलिस को दिए बयान में संजय ने कहा है कि उनके पड़ोस में रहने वाले कुछ युवक शराब का काम करते हैं। ऐसे में जब उन्होंने शराब बेचने को बंद करने बारे कहा तो ये लोग बाज नहीं आए। बाद में प्रवीन, पवन आदि ने रंजिश के चलते 11 नवंबर को टोहाना रोड पर उसके भाई राजू के साथ मार पिटाई की। इस पर राजू के बयान पर आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। संजय ने बताया कि इस सबके बावजूद आरोपी लगातार पूरे परिवार वालों से रंजिश रखे रहे। बाद में वे सीएम विंडो व पुलिस को झूठी शिकायतें करते रहे। यही नहीं आरोपितों ने सुरेश को रास्ते में रोक कर नौकरी से हटवाने की धमकी भी दी। इसके चलते उसका भाई सुरेश मानसिक तौर पर परेशान रहने लगा। उसे यह डर सता रहा था कि इस सबके चलते कहीं उसकी नौकरी ना चली जाए। मंगलवार रात को सुरेश ने घर पर सल्फास निगल लिया। तबीयत खराब होने पर उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया।