• Home
  • Haryana News
  • Barwala
  • मुगलपुरा के सरपंच से 8 लाख रुपयों की होगी रिकवरी, सातरोड के सरपंच की अभी जांच जारी
--Advertisement--

मुगलपुरा के सरपंच से 8 लाख रुपयों की होगी रिकवरी, सातरोड के सरपंच की अभी जांच जारी

पंचायत विभाग के चीफ विजिलेंस ऑफिसर प्रशांत अटकान शुक्रवार को बरवाला व उकलाना पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कई जगहों...

Danik Bhaskar | Apr 28, 2018, 02:10 AM IST
पंचायत विभाग के चीफ विजिलेंस ऑफिसर प्रशांत अटकान शुक्रवार को बरवाला व उकलाना पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कई जगहों पर चल रहे विकास कार्यों का जायजा लेकर उपयोग की गई निर्माण सामग्री की जांच की। वहीं प्रशांत अटकान ने बरवाला व उकलाना के बीडीपीओ कार्यालय में लगी बायोमीट्रिक मशीन की भी जांच की। उन्होंने इस दौरान मशीन में जांचा कि अधिकारियों की हाजिरी इसमें सही ढंग से लग रही है या नहीं।

सीवीओ अटकान ने गांव मुगलपुरा के सरपंच सुरेश कुमार द्वारा गांव में करवाए गए विकास कार्यों में किए गए गबन की भी जांच की। अटकान ने बताया कि सरपंच ने गांव में हैंड पंप, ट्यूबवैल, ग्राम सचिवालय के लिए फर्नीचर की खरीद व गांव की गलियों आदि का निर्माण कार्य करवाया था। इस दौरान विभाग को शिकायत मिली थी कि सरपंच ने इन कार्यों में गड़बड़ की है। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पंचायत विभाग ने उसे दो बार नोटिस भी दिया था। यही नहीं करीबन 3 माह पहले सरपंच सुरेश कुमार को गबन के आरोपों के चलते बर्खास्त कर दिया गया था। चीफ विजिलेंस ऑफिसर प्रशांत अटकान ने बताया कि सरपंच सुरेश कुमार पर जो आरोप लगे थे जांच करने पर वे दोषी पाए गए। ऐसे में अब उनसे 8 लाख रुपयों की रिकवरी की जाएगी। उन्होंने बताया कि गांव सातरोड के सरपंच की भी जांच चल रही है। उन पर करीबन 25 लाख रुपयों की गड़बड़ का आरोप है। प्रशांत अटकान ने यहां बीडीपीओ कार्यालय में खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी संजय टाक व अन्य अधिकारियों को सरकार के स्वच्छता अभियान को सफल बनाने, सरकारी योजनाओं का लाभ आम आदमी तक पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने ग्राम सचिवालयों पर विशेष ध्यान देने की बात कही। प्रशांत अटकान ने बताया कि भ्रष्टाचार की सबसे अधिक शिकायतें पंचायत विभाग की हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश भर में 40 से अधिक पंचायतों की जांच चल रही है।