• Hindi News
  • Haryana News
  • Barwala
  • क्षेत्रवासी कर रहे थे जिसे स्थानांतरित करने की मांग, वो शराब की दुकान ही अवैध निकली
--Advertisement--

क्षेत्रवासी कर रहे थे जिसे स्थानांतरित करने की मांग, वो शराब की दुकान ही अवैध निकली

शहर के बनभौरी मार्ग पर रिहायशी इलाके में चल रही शराब की दुकान को पुलिस ने बुधवार को कार्रवाई करते हुए बंद करवा...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:10 AM IST
शहर के बनभौरी मार्ग पर रिहायशी इलाके में चल रही शराब की दुकान को पुलिस ने बुधवार को कार्रवाई करते हुए बंद करवा दिया। यहां से पुलिस ने नाजायज तौर पर बेची जा रही करीबन 42 बोतल देसी शराब भी कब्जे में ली है।

पुलिस ने इस संबंध में तलवंडी राणा के राकेश के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत केस दर्ज उसे गिरफ्तार किया है। क्षेत्रवासी पिछले कई दिनों से उनके क्षेत्र में चल रही शराब की दुकान को स्थानांतरित करने की मांग कर रहे थे। समाचार प्रकाशित होने के बाद पुलिस प्रशासन हरकत में आया व कार्रवाई के लिए बुधवार को बनभौरी मार्ग पर बनी शराब की दुकान पर पहुंचा। ठेका चला रहे व्यक्ति उस स्थान पर ठेका चलाने संबंधी किसी तरह का अनुमति प्रमाण पत्र नहीं दिखा पाए। पुलिस ने अवैध रूप से चल रही दुकान से शराब की 42 बोतलें बरामद की। बता दें कि क्षेत्रवासियों ने उपायुक्त को लिखी शिकायत में कहा था कि ठेके के आस पास दो तीन धार्मिक स्थल व सरकारी स्कूल हैं। यहां चौक पर पेयजल के लिए हैंड पंप लगा हुआ है।

सरकारी स्कूल में जाने के लिए शराब के ठेके के पास से ही स्टूडेंट्स को गुजरना पड़ा है। वहीं हैंड पंप पर महिलाएं पानी लेने के लिए आती रहती हैं। क्षेत्रवासियों ने कहा कि शराबी वहां पर शराब पीकर आपस में झगड़ते हैं व गाली गलौज करते हैं। जिसके चलते यहां से महिलाओं व बच्चों का गुजरना कई बार शर्मिंदगी पैदा कर देता है। क्षेत्रवासियों ने मांग की है कि आबादी के बीच से शराब के ठेके को हटवाया जाए ताकि क्षेत्र में माहौल सामान्य रह सके।

बड़छप्पर में भड़के ग्रामीणों ने ठेके को लगाई आग

नारनौंद | बड़छप्पर में बीती रात शराब के ठेकेदार व उसके कारिंदों ने अवैध शराब बेचने वालों की पिटाई की। गुस्साए लोगों के ठेके को आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने दोनों पक्षों पर मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। बास थाना प्रभारी से मिली जानकारी के अनुसार हलका नारनौंद के गांव बड़छप्पर के कुछ युवक खेतू नामक युवक के साथ मिलकर अवैध रूप से शराब बेचकर शराब के ठेकेदार को नुकसान पहुंचा रहे थे। आरोप है कि ठेकेदार द्वारा बार-बार रोकने पर भी जब शराब बेचनी बंदी नहीं की गई तो ठेकेदार ने अपने 10-12 कारिंदों को लेकर खेतू की पिटाई कर दी। इसके बाद खेतू के परिवार के लाेगों ने मिलकर शराब के ठेके को आग के हवाले कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही बास थाना पुलिस टीम ने पहुंच कर मामले को शांत करने की कोशिश की। इस संबंध में बास थाना पुलिस ने शराब ठेकेदार के पक्ष के रविंद्र कुमार, संजय कुमार, ऋषि, शेरा आदि सहित 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।

पुलिस ने जिन लोगों द्वारा ठेके को आग के हवाले करने वाले खेतू के पक्षधरों पर भी मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने बताया की इस मामले में जांच की जा रही है। इसमें दोषी पाए जाने वालों पर अवश्य कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने दोनों पक्षों के आरोप सुनने के लिए कल का समय दिया है

पुलिस ने दोनों तरफ से शिकायत पर किया केस दर्ज

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..