• Home
  • Haryana News
  • Barwala
  • सुरक्षा प्रबंधों से नाराज कर्मियों का हंगामा ग्रामीण बोले-प्लांट के गेट पर जड़ेंगे ताला
--Advertisement--

सुरक्षा प्रबंधों से नाराज कर्मियों का हंगामा ग्रामीण बोले-प्लांट के गेट पर जड़ेंगे ताला

थर्मल प्लांट में हुए हादसे के बाद गांव खेदड़ के ग्रामीणों में प्लांट प्रशासन के खिलाफ खासा गुस्सा है। हादसे में...

Danik Bhaskar | May 09, 2018, 03:10 AM IST
थर्मल प्लांट में हुए हादसे के बाद गांव खेदड़ के ग्रामीणों में प्लांट प्रशासन के खिलाफ खासा गुस्सा है। हादसे में गांव खेदड़ के तीन युवक हैं। जब उनके आग में झुलसने की खबर ग्रामीणों को मिली तो दर्जनों ग्रामीण थर्मल प्लांट में पहुंचे। ग्रामीणों ने कहा है कि थर्मल प्लांट में आए दिन हादसे वहां के प्रशासन की लापरवाही के कारण होते हैं। यदि इस मामले में संबंधित अधिकारियों व लापरवाह कंपनी के खिलाफ केस दर्ज नहीं हुआ तो प्लांट के गेट पर ताला जड़ देंगे। उधर, ऑल हरियाणा पॉवर कॉरपोरेशन वर्कर यूनियन के पदाधिकारियों ने भी लापरवाही बरतने वाली कंपनी व प्लांट के जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। खेदड़ थर्मल में काम करने वाले कर्मचारियों ने मामले को लेकर हंगामा भी किया। रोषित कर्मचारियों ने नारेबाजी करते हुए आरोप लगाए कि थर्मल में सेफ्टी के पुख्ता इंतजाम नहीं है। बरवाला के डीएसपी जयपाल सिंह के सामने भी हादसे पर रोष प्रकट किया। इस दौरान थर्मल कर्मचारियों ने डीएसपी को एक शिकायत दी है, जिसमें आरोप लगाया है कि थर्मल में मजदूरों व कर्मचारियों की सुरक्षा के पुख्ता इंजाम नहीं है। कर्मचारी यूनिट के नजदीक ही धरना लगा कर बैठ गए। थर्मल प्लांट में जब मजदूर बॉयलर में काम कर रहे थे उस समय सुरक्षा के नाम पर उनके पास सिर्फ हेलमेट व जूते थे, जबकि बॉयलर में इतनी गर्मी व आग होती है कि उससे बचने के लिए विशेष सूट पहनना अनिवार्य होता है। झुलसे दो मजदूरों को काम का खास अनुभव नहीं था।