• Home
  • Haryana News
  • Barwala
  • झुलसे चौथे मजदूर की भी मौत, पीड़ितों को अभी तक नहीं मिला है मुआवजा
--Advertisement--

झुलसे चौथे मजदूर की भी मौत, पीड़ितों को अभी तक नहीं मिला है मुआवजा

राजीव गांधी थर्मल पॉवर प्लांट खेदड़ में 8 मई को बॉयलर में काम करते हुए मजदूरों पर क्लिंकर गिरने से हुए हादसे में...

Danik Bhaskar | Jun 02, 2018, 03:10 AM IST
राजीव गांधी थर्मल पॉवर प्लांट खेदड़ में 8 मई को बॉयलर में काम करते हुए मजदूरों पर क्लिंकर गिरने से हुए हादसे में मरने वाले मजदूरों की संख्या चार हो गई है। हिसार के एक निजी अस्पताल में उपचाराधीन उत्तर प्रदेश के मनोज यादव की गुरुवार रात को मौत हो गई। इससे पहले गांव खेदड़ के विक्रम और अमित व उत्तर प्रदेश के देवरिया के रहने वाले छोटे लाल यादव की मौत हो चुकी है। हादसे में एनेर्गो कंपनी के कुल 6 कर्मी झुलस गए थे। दो घायलों को अभी भी उपचार चल रहा है।

जांच अधिकारी उपनिरीक्षक सुरेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने मृतक मनोज यादव के शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। 26 वर्षीय मनोज यादव की क एक साल पहले ही शादी हुई थी। हादसे में मारे गए मृतकों के परिजनों को 20-20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता व घायलों को 10-10 लाख रुपये की सहायता राशि दिए जाने का प्रशासन ने ऐलान किया था लेकिन अभी तक मृतकों के परिजनों को एचपीजीसीएल की ओर से साढ़े तीन लाख रुपयों की मुआवजा राशि मिल पाई है जबकि घायलों के परिजनों को प्रशासन की ओर से 5-5 लाख रुपए मिले हैं।

बता दें कि हादसे के बाद धरने पर बैठे लोगों से बातचीत करने के लिए सरकार की ओर से पहुंचे परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने सभी पीड़ित 6 परिवारों के एक-एक सदस्य को एचपीजीसीएल में नौकरी भी दिए जाने की बात कही थी। इस दिशा में भी अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है। नौकरी संबंधी कागजात विभाग के हेड ऑफिस में भेजे जा चुके हैं। इसके अलावा थर्मल प्लांट में हुए हादसे का जिम्मेदार माने गए अधिकारियों का तबादला तो यहां से यमुनानगर कर दिया गया है लेकिन सरकार की ओर से कहा गया था कि हादसे के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को चार्ज सीट किया जाएगा व इनके खिलाफ भी पुलिस में केस दर्ज किया जाएगा। जबकि अभी तक पुलिस ने मामले के संबंध में एनेर्गो कंपनी के ठेकेदार के तहत काम करने वाले साइट इंचार्ज को ही गिरफ्तार किया है। अन्य किसी भी आरोपी की अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं बता दें कि पुलिस की एसआईटी भी मामले की जांच के लिए गठित की गई थी।

हादसे में एनेर्गो कंपनी के 6 कर्मी झुलस गए थे, दो घायलों का अभी भी चल रहा उपचार