• Hindi News
  • Haryana
  • Bawal
  • बावल मंडी को सरसों की सरकारी खरीद में शामिल न करने से किसानों में रोष
--Advertisement--

बावल मंडी को सरसों की सरकारी खरीद में शामिल न करने से किसानों में रोष

बावल. बावल में सरसों की सरकारी खरीद की मांग को लेकर सीएम के नाम एसडीएम को ज्ञापन देते भारतीय किसान संघ के सदस्य।...

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2018, 02:15 AM IST
बावल मंडी को सरसों की सरकारी खरीद में शामिल न करने से किसानों में रोष
बावल. बावल में सरसों की सरकारी खरीद की मांग को लेकर सीएम के नाम एसडीएम को ज्ञापन देते भारतीय किसान संघ के सदस्य।

भास्कर न्यूज| बावल

भारतीय किसान संघ की ओर से बावल में भी सरसों की सरकारी खरीद शुरू कराने की मांग को लेकर संघ के प्रदेश मंत्री रामकिशन महलावत के नेतृत्व में एसडीएम बावल को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

सदस्यों ने कहा कि एक माह पहले भी सरसों की सरकारी खरीद की मांग को लेकर संघ की ओर से डीसी को ज्ञापन दिया गया था। जिसमें 15 मार्च से हरियाणा में सरसों बाहुल्य इलाके की सभी अनाज मंडियों में सरकारी खरीद की मांग की गई थी। सरकार ने आग्रह को स्वीकारते हुए इस बार 15 मार्च से सरसों की सरकारी खरीद करने की घोषणा की, लेकिन खरीद भी शुरू नहीं हो पाई और बावल मंडी को शामिल भी नहीं किया गया। इससे क्षेत्र के किसानों में रोष हैं। किसानों ने मांग करते हुए कहा कि बावल अनाज मंडी में भी सरकारी खरीद शुरू की जाए। खरीद प्रतिदिन निश्चित गांवों की नहीं बल्कि पहले आओ पहले बेचो के नियम से होनी चाहिए।

सरसों खरीद में पच्चीस क्विंटल की सीमा निश्चित नहीं होनी चाहिए, बल्कि किसान का एक-एक दाना खरीदना चाहिए। ज्ञापन सौंपने में जिला अध्यक्ष भजनलाल, ब्लॉक अध्यक्ष महेन्द्र, रामनाथ रूद्घ, प्रताप सिंह, भीम सिंह, कृष्ण जेलदार, जयप्रकाश, सज्जन सिंह, विजय कुमार, महेन्द्र ढिल्लो, हरदन सिंह, प्रह्लाद सिंह, सूबेसिंह व नरबीर सरपंच सहित अन्य मौजूद रहे।

X
बावल मंडी को सरसों की सरकारी खरीद में शामिल न करने से किसानों में रोष
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..