• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • ओवरलोडिंग रोकी तो पुलिसकर्मियों की कार के पीछे गाड़ी दौड़ाकर जानलेवा हमला किया
--Advertisement--

ओवरलोडिंग रोकी तो पुलिसकर्मियों की कार के पीछे गाड़ी दौड़ाकर जानलेवा हमला किया

ओवरलोडिंग के माफिया पूरी तरह बेखौफ हैं। अब ओवरलोडिंग रोकने से गुस्साए माफियाओं ने दो पुलिसकर्मियों की कार को...

Danik Bhaskar | Mar 18, 2018, 03:05 AM IST
ओवरलोडिंग के माफिया पूरी तरह बेखौफ हैं। अब ओवरलोडिंग रोकने से गुस्साए माफियाओं ने दो पुलिसकर्मियों की कार को गाड़ी से टक्कर मारकर कई बार पलटने का प्रयास किया। आरोपियों ने पुलिसकर्मियों को अपनी गाड़ी में डालकर अपहरण की भी कोशिश की। मामले में कार्रवाई करते हुए बावल थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की पहचान राजस्थान के जिला झुंझनू निवासी जसवंत के रूप में हुई है। बता दें कि इससे पहले भी ओवरलोडिंग पर कार्रवाई के दौरान पंचायत राज के एक जेई के ऊपर से ट्राला गुजरने से उसकी माैत हो गई थी। चेकिंग टीम के साथ मारपीट भी हो चुकी हैं।

पहले दी ओवरलोड गाड़ी निकालने की धमकी

जांच अधिकारी एसआई सुनील कुमार ने बताया कि शुक्रवार रात को एएसआई अजय सिंह व एचसी विभुरंजन जयसिंहपुर खेड़ा बाॅर्डर स्थित नाका पर ओवरलोड वाहनों की जांच कर चालान करा रहे थे। इसी दौरान दो लोग उनके पास पहुंचे तथा उनकी ओवरलोड गाड़ियां निकालने के लिए कहा। परंतु पुलिसकर्मियों ने गाड़ियां निकालने से इंकार कर दिया। पुलिस कर्मियों ने कहा कि जो भी ओवरलोड गाड़ी आएगी उसका चालान काटा जाएगा। रात को करीब 11 बजे ड्यूटी खत्म होने के बाद एएसआई अजय व विभुरंजन अपनी कार से घर जाने लगे तो ब्रेजा गाड़ी मेंं आए पांच लोगों ने उन्हें रोक लिया तथा जबरदस्ती कार से निकाल कर ब्रेजा में ले जाने का प्रयास किया। दोनों पुलिसकर्मियों ने अपने आप को उनके चंगुल से छुड़ाते हुए अपनी कार में आए तथा वहां से निकल गए। ब्रेजा में सवार लोगों ने उनका पीछा शुरू कर दिया तथा कई बार उनकी कार को टक्कर मार कर पलटने का प्रयास किया। पुलिसकर्मियों काे जान बचाने के लिए इस दौरान कार डिवाइडर के ऊपर से भी कुदानी पड़ी। पुलिसकर्मियों की सूचना के बाद बावल थाना एसएचओ भी हाईवे पर पहुंच गए, जिसके बाद सभी फरार हो गए। पुलिस ने एएसआई अजय की शिकायत पर अपहरण, हत्या का प्रयास सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जसवंत को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपी को शनिवार को अदालत में पेश किया, उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।