• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • डोकलाम में दोनों देशों की सेनाओं के हटने के बाद की स्थिति में कोई बदलाव नहीं : बंबावले
--Advertisement--

डोकलाम में दोनों देशों की सेनाओं के हटने के बाद की स्थिति में कोई बदलाव नहीं : बंबावले

चीन में भारत के राजदूत गौतम बंबावले ने कहा है कि डोकलाम में पिछले साल आमने-सामने रही दोनों देशों की सेनाओं के पीछे...

Danik Bhaskar | Mar 25, 2018, 03:05 AM IST
चीन में भारत के राजदूत गौतम बंबावले ने कहा है कि डोकलाम में पिछले साल आमने-सामने रही दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने के बाद की स्थिति बरकरार है।

डोकलाम में आज चीन की कोई गतिविधि नहीं है। बंबावले ने कहा कि चीन को इस इलाके में कुछ भी गतिविधि से पहले भारत को सूचना देनी चाहिए थी। बंबावले ने कहा, ‘भारत-चीन सीमा पर शांति और तिराहा बनाए रखने के लिए, कुछ खास क्षेत्र हैं, जो बेहद संवेदनशील हैं और हमें यहां यथास्थिति नहीं बदलनी चाहिए। अगर कोई यथास्थिति बदलता है तो इससे डोकलाम जैसी स्थिति पैदा हो जाएगी।’ उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से बचने का उपाय स्पष्ट और खुलकर बातचीत करना है। डोकलाम में 73 दिन तक दोनों देशों की सेनाओं के बीच गतिरोध 28 अगस्त को सड़क निर्माण रोकने की चीन की सहमति के बाद खत्म हुआ था।

बीआरआई पर मतभेद को विवाद नहीं बनाना

बीजिंग में बंबावले ने कहा कि नई दिल्ली ने चीन-पाक आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) का विरोध किया है, लेकिन देश बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) पर मतभेद को विवाद नहीं बनाना चाहता है। उन्होंने कहा कि सीपीईसी से भारत की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्लंघन होता है, इसलिए भारत इसका विरोध करता है।’

सीमा निर्धारण न होना बड़ी समस्या

हॉन्गकॉन्ग स्थित साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट को दिए साक्षात्कार में बंबावले ने कहा, “दोनों देशों के बीच सीमा निर्धारण न होना बड़ी समस्या है और दोनों देशों को तत्काल अपनी सीमाओं के पुनर्निधारण की जरूरत है।’

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने पाक के दो आतंकियों को मार गिराया

श्रीनगर | दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों ने शनिवार को मुठभेड़ में पाक के दो आतंकियाें को मार गिराया। ये दोनों जैश-ए-मोहम्मद आतंकी गुट से जुड़े बताए गए हैं। दूरु इलाके के शिस्त्रागाम गांव में आतंकियों की मौजूदगी की शुक्रवार शाम को सूचना मिली थी। राष्ट्रीय राइफल, जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान दल (एसओजी) तथा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने देर रात गांव में तलाशी अभियान शुरू किया। जवान जब क्षेत्र की घेराबंदी कर रहे थे, तो वहां छिपे हुए आतंकियों ने फायरिंग की। इसके बाद आसपास के सेना शिविरों से अतिरिक्त सुरक्षा बलों को बुलाया गया और पूरे इलाके को सील कर दिया गया। सुरक्षा बलों ने शनिवार सुबह फिर तलाशी अभियान शुरू किया और छिपे दोनों आतंकियों को मार गिराया। मुठभेड़ के बाद प्रशासन ने अनंतनाग एवं कुलगाम जिले में एहतियातन मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया।

पड़ोसियों से चीन के संबंधों से चिंतित नहीं

बंबावले ने कहा कि पड़ोसी देशों से चीन के बढ़ते संबंधों से भारत चिंतित नहीं है। भारत का नेपाल, भूटान और श्रीलंका से अलग तरह का संबंध है। उन्होंने इस बात से भी इनकार किया कि भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के ब्लॉक में शामिल हो रहा है।

मोदी-जिनपिंग की मुलाकात होगी

भारतीय राजदूत ने कहा कि शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गेनाइजेशन (एससीओ) की जून में होने वाली बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी शामिल होंगे। मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की मुलाकात होगी। दोनों द्विपक्षीय मुद्दों पर बात करेंगे। एससीओ की बैठक 9 व 10 जून को चीन के क्विंगदाओ शहर में होगी।

खुलापन बढ़ाने की जरूरत

बंबावले ने कहा कि जब डोकलाम जैसी स्थिति पैदा हुई थी, इसका मतलब था कि हम एक दूसरे के साथ खुले और स्पष्ट नहीं थे। इसलिए हमें एक-दूसरे के साथ खुलापन बढ़ाने की जरूरत है।