• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • बावल क्षेत्र के गांवों को नहरी परियोजना से जोड़ने के लिए खर्च होंगे Rs.300 करोड़
--Advertisement--

बावल क्षेत्र के गांवों को नहरी परियोजना से जोड़ने के लिए खर्च होंगे Rs.300 करोड़

जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बनवारी लाल ने रविवार को गांव पनवाड़ में नवनिर्मित गलियों का उद्घाटन...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:05 AM IST
जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बनवारी लाल ने रविवार को गांव पनवाड़ में नवनिर्मित गलियों का उद्घाटन किया। मंत्री ने कहा कि बावल विधानसभा क्षेत्र के सभी गांवों को नहरी पेयजल योजना से जोड़ने के लिए लगभग 300 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी, ताकि आने वाले 30 वर्षों तक भी लोगों को पेयजल की समस्या न हो। बिजली की आपूर्ति तय करने के लिए कमालपुर, सुबासेडी व मोहनपुर के हैं तथा रामपुरा, धारण व भांडौर के सब-स्टेशन भी शीघ्र तैयार कराए जाएंगे। गांव पनवाड़ में भी पीने के पानी की समस्या के समाधान के लिए घर-घर नल लगाए जाएंगे। बावल में महिला कॉलेज की कक्षाएं इसी सत्र से शुरू होंगी। बावल आरओबी का कार्य तेजी से किया जा रहा है। रसियावास के लिए अंडरपास की सुविधा भी जल्द पूरी हो जाएगी। बावल में बस स्टैंड, सब्जी मंडी व अनाज मंडी में शैड डालने का कार्य भी चल रहा है।

बावल में 150 बिस्तर का ईएसआई अस्पताल सेक्टर-2 में पांच एकड़ जमीन पर बनाया जाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग पर ट्रामा सेंटर का निर्माण भी कराया जाएगा। गांव में विकास कार्यों के लिए 11 लाख रुपए पहले दिए जा चुके हैं तथा सामुदायिक भवन, नाले के निर्माण व दो गलियों के निर्माण के लिए 13 लाख रुपए देने की घोषणा भी की। चेयरमैन पंचायत समिति बावल वीरेंद्र छिल्लर ने भी इस मौके पर गांव में अपनी ओर से तीन लाख रुपए विकास कार्यों के लिए देने की घोषणा की। इस मौके पर चेयरमैन नगरपालिका बावल अमरसिंह महलावत, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी राजेन्द्र सिंह, जनस्वास्थ्य विभाग से रविन्द्र कुमार, सरपंच सोहन लाल, पूर्व सरपंच हीरा लाल, अत्तर सिंह, कंवर सिंह, मांगेराम, भाजपा किसान मोर्चा मण्डल बावल से बीर सिंह, राजबीर सहित अन्य मौजूद रहे। इससे पूर्व मंत्री ने एक निजी अस्पताल में मेडिकल स्टोर का उद्घाटन किया। इस मौके पर जिला भाजपा अध्यक्ष योगेन्द्र पालीवाल, नवीन गज्जीवास, भूप सिंह, प्रताप सिंह, ओमप्रकाश, मोहर सिंह व अन्य मौजूद रहे।

बिजली आपूर्ति के लिए रामपुरा, धारण व भांडौर के सब-स्टेशन भी जल्द कराए जाएंगे तैयार