• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • तीन खंडों में स्कूलों ने दर्शाई 3100 रिक्त सीटें, रेवाड़ी-जाटूसाना में सूची नहीं की जारी
--Advertisement--

तीन खंडों में स्कूलों ने दर्शाई 3100 रिक्त सीटें, रेवाड़ी-जाटूसाना में सूची नहीं की जारी

नियम-134-ए के तहत निजी स्कूलों में दाखिले लेने के लिए नाहड़, बावल व खोल खंड की ओर से स्कूलों की संख्या के साथ ही उनमें...

Danik Bhaskar | Mar 22, 2018, 03:10 AM IST
नियम-134-ए के तहत निजी स्कूलों में दाखिले लेने के लिए नाहड़, बावल व खोल खंड की ओर से स्कूलों की संख्या के साथ ही उनमें रिक्त सीटें भी दर्शा दी गई हैं। लेकिन रेवाड़ी व जाटूसाना में अभी रिक्त सीटों की संख्या नहीं दिखाई गई है। रेवाड़ी व जाटूसाना खंड में बच्चों के अभिभावकों के लिए असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

उनके सामने अब अपने बच्चों का कहां एडमिशन कराएं और कहां आवेदन करें ये समस्या आ रही हैं। जिन खंडों ने सूची जारी की है, उनमें 3100 सीटें रिक्त दिखाई गई हैं। इनमें नाहड़ के 33 स्कूलों में 730, बावल के 35 स्कूलों में 1440 और खोल में 930 सीटें रिक्त हैं। जबकि जाटूसाना में बीईओ नसीब सिंह द्वारा सूची को सार्वजनिक नहीं किया गया। इस बारे में कार्यकारी डीईओ सुरेश गौरया के पास भी सीटों की जानकारी नहीं भेजी गई है।

अभिभावक पूछने आ रहे, लेकिन फार्म जमा नहीं हुए

नियम-134ए के तहत बच्चों के अभिभावक खंड शिक्षा कार्यालयों में स्कूलों व आवेदन कैसे करें इसे लेकर पूछने तो आ रहे हैं, लेकिन अभी किसी भी खंड में फार्म जमा नहीं हो पाए हैं। रेवाड़ी खंड में कुछ निजी स्कूलों ने अभी सीटें भी नहीं दर्शाई है। ऐसे में बच्चों के अभिभावकों के सामने अभी ये भी दिक्कत हैं कि वे आवेदन किस स्कूल में करें। अभी वे असमंजस की स्थिति में है।

नियम-134ए में दाखिले को असमंजस की स्थित

रेवाड़ी. नई बस्ती स्थित बीईआे कार्यालय के बाहर नियम 134ए के तहत लगी स्कूलो की सूची।

99 गैर-मान्यता प्राप्त स्कूलों के बच्चों को आ सकती है दिक्कत

अगर बच्चों को मान्यता प्राप्त स्कूल की स्कूल लिविंग सर्टिफिकेट मिल जाती है तो बच्चे आवेदन कर सकते हैं, लेकिन अगर बच्चे गैर-मान्यता प्राप्त स्कूल की एसएलसी लेकर आते हैं तो वे आवेदन नहीं कर सकेंगे और उनको एडमिशन भी नहीं दिया जाएगा।