• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • नोटबंदी में फर्जी तरीके से दिखाई Rs.99 लाख के माल की खरीद
--Advertisement--

नोटबंदी में फर्जी तरीके से दिखाई Rs.99 लाख के माल की खरीद

बावल स्थित एक कंपनी के एमडी ने दूसरी कंपनी के प्रबंधन पर करीब 99 लाख रुपए के माल की खरीद फर्जी तरीके से उनकी कंपनी के...

Danik Bhaskar | Apr 04, 2018, 03:10 AM IST
बावल स्थित एक कंपनी के एमडी ने दूसरी कंपनी के प्रबंधन पर करीब 99 लाख रुपए के माल की खरीद फर्जी तरीके से उनकी कंपनी के नाम दिखाने के आरोप लगाए हैं। मामला नवंबर 2016 का है। आयकर जमा कराते समय मामले का खुलासा होने पर सीएम विंडो पर शिकायत लगाई गई थी। इसमें आरोपों की जांच के बाद पुलिस ने अब एफआईआर दर्ज की है। गुड़गांव के सेक्टर-10 निवासी सचिन यादव बावल आईएमटी स्थित एसवाईके मेटल कंपनी के एमडी हैं। अपनी शिकायत में सचिन ने कहा कि मई 2016 में बावल आईएमटी में ही स्थित वैनफिंग एल्युमीनियम व्हील इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से एक स्क्रेप माल की खरीद करने के लिए इकरार किया था।

एसवाईके कम्पनी ने उपरोक्त स्क्रेप का माल उठाने के लिए कुटेशन व अन्य दस्तावेज भी उक्त कम्पनी के हक में तैयार कराए थे। लेकिन इसके बाद कम्पनी से किसी प्रकार का कोई लेन-देन या माल खरीद फरोख्त नहीं हुई थी। सचिन ने आरोप लगाए कि 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी शुरू हो गई तो उक्त कंपनी ने अपना कालाधन छिपाने के लिए 19 नवंबर 2016 से 30 नवंबर 2016 के बीच एसवाईके कंपनी से 99 लाख 1366 रुपए के माल की खरीद फार्म 26एएस में दर्शा दी। उन्होंने कहा कि उपरोक्त इन्द्राज गलत तरीके से प्रार्थी की कम्पनी को धोखा व उसको नुकसान पहुंचाने की नीयत से झूठे स्टेटमेंट तैयार किए। जुलाई 2017 में इनकम टैक्स जमा कराने के लिए जब सचिन यादव ने अपना पैन नंबर दिया तो पहले से ही एक लाख रुपए जमा कराने का टीसीएस आया हुआ था। उन्होंने अपने स्तर पर जांच कराई तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। इसके बाद सीएम विंडो पर शिकायत लगाई गई। शिकायत जिला पुलिस प्रशासन तक पहुंची तो मामले की जांच कराई गई। जांच में खामी सामने आने पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।