• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • रोज 500 से ज्यादा क्विंटल सरसों बिक रही है औने-पौने दाम पर
--Advertisement--

रोज 500 से ज्यादा क्विंटल सरसों बिक रही है औने-पौने दाम पर

रेवाड़ी. अनाज मंडी के फड़ पर सूखने के लिए फैलाई गई सरसों। मंडी में सरकारी खरीद 19 मार्च से होने जा रही है। भास्कर...

Danik Bhaskar | Mar 17, 2018, 04:10 AM IST
रेवाड़ी. अनाज मंडी के फड़ पर सूखने के लिए फैलाई गई सरसों। मंडी में सरकारी खरीद 19 मार्च से होने जा रही है।

भास्कर न्यूज | रेवाड़ी

नई अनाज मंडी में सरसों की आवक धीरे-धीरे बढ़ने लगी है, लेकिन सरकारी समर्थन मूल्य पर खरीद न होने से किसानों को कम दाम पर सरसों की बिक्री करनी पड़ रही है। किसानों का कहना है कि सरकार को 15 मार्च से ही सरसों की खरीद शुरू करनी चाहिए थी। लेकिन न होने से अब उनको औने-पौने दामों पर ही अपनी सरसों बेचनी पड़ रही है। जबकि सरकार की ओर से 19 मार्च को सरकारी खरीद शुरू की जाएगी। इधर, अभी सरसों में नमी भी निकल रही है, ऐसे में खरीद में दिक्कत भी हो सकती है।

किसानों का कहना है कि मंडी में वे इस उम्मीद से अपनी सरसों लेकर पहुंच रहे हैं कि अच्छे दाम पर बिक्री हो, लेकिन अभी 3500 से 3800 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से ही बिक रही है। ऐसे में उनको 200 रुपए से ज्यादा प्रति क्विंटल आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। इधर, बावल में खरीद केंद्र न बनाने से किसान संगठनों में भी रोष है। संगठनों ने 19 मार्च से होने वाली खरीद को बावल में भी शुरू कराने की अावाज उठाई है। इसके लिए पिछले दिनों एसडीएम बावल को ज्ञापन देकर इसकी मांग भी उठाई गई थी।

मंडी में सुखाने के लिए फैलाई सरसों : मंडी में रोज 500 से ज्यादा क्विंटल सरसों पहुंच रही है। पिछले दो दिन से आवक बढ़ी भी है। सरसों में नमी होने से किसानों ने सुखाने के लिए फैलाई भी हुई है। ऐसे में मंडी में जगह-जगह सरसों फैली पड़ी है।