• Home
  • Haryana News
  • Bawal
  • खेतों में किसान करें जैविक खाद का प्रयोग, बढ़ जाएगी फसलों की पैदावार
--Advertisement--

खेतों में किसान करें जैविक खाद का प्रयोग, बढ़ जाएगी फसलों की पैदावार

क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्र बावल में चल रहे राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत गांव लोकरा में फसलों में जैविक खादों...

Danik Bhaskar | Feb 07, 2018, 04:15 AM IST
क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्र बावल में चल रहे राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत गांव लोकरा में फसलों में जैविक खादों के उपयोग पर एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया। इसमें डॉ. धर्मबीर पाठक ने खेतों में जैविक खाद के प्रयोग व बीज पर उपचार करने की विधि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने किसानों को अपने खेत में भी इन जैविक खादों के प्रयोग व लंबे समय तक इनको रखने की विधि के बारे में बताया। डॉ. जोगेंद्र यादव ने किसानों को सामान्य फसलों की जैविक खेती करने के बारे में बताया व किसानों को जैविक खेती के लिए विभिन्न प्रक्रिया को विस्तारपूर्वक समझाया।

इसके अलावा अरंड में भी जैविक खेती व विविधिकरण करने की सलाह दी गई। डॉ. अमरजीत ने किसानों को गेहूं, सरसों, बाजरा व ग्वार आदि सामान्य फसलों में अधिक से अधिक देशी खाद का उपयोग करने बारे अवगत कराया। जिससे न केवल पैदावार बढ़ेगी, बल्कि फसलों की गुणवत्ता में भी बढ़ोतरी होगी। डॉ. मुकेश कुमार ने बागवानी की फसलों में जैविक खेती व जीवाणु खाद के उपयोग के बारे में बताया। डॉ. बिजेंद्र यादव ने किसानों को बताया कि फूलों व पॉली हाऊस की फसलों में जैविक खादों का उपयोग कैसे करें। इसके अतिरिक्त फूलदार व सब्जियों के पौधों की नर्सरी तैयार करने विधि भी बताई। इस मौके पर तुलसीराम व अशोक कुमार ने सभी का आभार जताया।

रेवाड़ी. केवीके बावल में जैविक खेती प्रशिक्षण शिविर में उपस्थित कृषि अधिकारी व किसान।