Hindi News »Haryana »Bawal» सड़क हादसे में कर्मी की मौत पर साथियों ने कंपनी के गेट पर शव रखकर परिवार के लिए मांगी मदद

सड़क हादसे में कर्मी की मौत पर साथियों ने कंपनी के गेट पर शव रखकर परिवार के लिए मांगी मदद

दिल्ली-जयपुर हाईवे पर शुक्रवार रात को सड़क हादसे में कंपनी कर्मचारी की मौत पर शनिवार सुबह साथी कर्मचारियों ने जमकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 29, 2018, 03:10 AM IST

दिल्ली-जयपुर हाईवे पर शुक्रवार रात को सड़क हादसे में कंपनी कर्मचारी की मौत पर शनिवार सुबह साथी कर्मचारियों ने जमकर रोष प्रकट किया। कर्मचारी शव को गेट पर ही गाड़ी में रखकर धरने पर बैठ गए। इस दौरान प्रदर्शन करते हुए परिवार को आर्थिक सहायता देने और एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की। इस दौरान काफी संख्या में कर्मचारी एकत्रित हो गए। सूचना के बाद प्रशासनिक अधिकारी व पुलिसबल भी मौके पर पहुंचा। आखिर आश्वासन देकर मामला शांत कराया गया। इसके बाद कर्मचारियों ने शव को गेट के आगे से हटा लिया।

ट्राला की टक्कर से हुई थी मौत, चालक गिरफ्तार : गांव कमालपुर निवासी अंकित बावल के औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक मोबाइल कंपनी में कार्यरत था। जिला सोनीपत के गांव पीपली निवासी अमित व जींद के गांव करसोला निवासी अजय भी इसी कंपनी में काम करते हैं। मृतक के पिता ने पुलिस को शिकायत देकर बताया कि शुक्रवार रात को अंकित व उसके उक्त दोनों साथी बनीपुर चौक के निकट खड़े होकर बात कर रहे थे। इसी दौरान एक तेज रफ्तार ट्राला ने तीनों को टक्कर मार दी। हादसे में अंकित की मौत हो गई, जबकि उसके साथी घायल हो गए थे। कसौला थाना पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर ट्राला चालक को गिरफ्तार कर लिया।

रेवाड़ी. एनएच- पर दुर्घटना में कर्मचारी की मौत के बाद कंपनी में मौजूद पुलिसकर्मी।

रेवाड़ी. एनएच- पर दुर्घटना में कर्मचारी की मौत के बाद कंपनी में मौजूद पुलिसकर्मी।

मांग मानने के बाद ही किया गया अंतिम संस्कार : शनिवार सुबह पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम कराया तथा परिजनों को सौंप दिया। लेकिन शव को मृतक के साथी कर्मचारियों ने कंपनी के गेट के आगे रखकर हंगामा शुरू कर दिया। कर्मचारियों ने मृतक अंकित के परिवार को 5 लाख रुपए आर्थिक सहायता और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की। हंगामे की सूचना के बाद बावल एसडीएम सतेन्द्र धवन, तहसीलदार मनीष कुमार, लेबर ऑफिसर हवा सिंह व डीएसपी गजेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंचे। यहां कंपनी प्रतिनिधि भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कर्मचारियों की मांग के अनुसार आर्थिक सहायता देने व नौकरी देने का आश्वासन दिया। इस पर मामला शांत हो गया। इसके बाद शव को गेट से हटाकर अंतिम संस्कार किया ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bawal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×