Hindi News »Haryana »Bawal» नशे में सीवर में गिरा की थी ट्रांसपोर्टर की हत्या, हादसा दिखाने को डाली बाइक

नशे में सीवर में गिरा की थी ट्रांसपोर्टर की हत्या, हादसा दिखाने को डाली बाइक

दिल्ली-जयपुर हाईवे स्थित असाई पुल के नजदीक सीवर लाइन में मिले ट्रांसपोर्टर के शव मामले में बड़ा खुलासा किया है। अभी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 24, 2018, 03:10 AM IST

नशे में सीवर में गिरा की थी ट्रांसपोर्टर की हत्या, हादसा दिखाने को डाली बाइक
दिल्ली-जयपुर हाईवे स्थित असाई पुल के नजदीक सीवर लाइन में मिले ट्रांसपोर्टर के शव मामले में बड़ा खुलासा किया है। अभी तक पुलिस की छानबीन में सामने आया कि परिजनों के आरोप के आधार पर जिन दो व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था उन्हीं ने सीवर लाइन में गिराकर गांव सुठानी निवासी ट्रांसपोर्टर प्रवीण को मारा था। दोनों ने प्रवीण को नशे की हालत में धक्का देकर सीवर लाइन में फेंक दिया था, फिर वारदात को हादसे का रूप देने के लिए मृतक की बाइक और जूतों को भी सीवर में फेंक दिया। लेकिन पुलिस ने हिरासत में लेकर आरोपियों से पूछताछ शुरू की तो उन्होंने वारदात का सच उगलना शुरू कर दिया। गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान गांव प्राणपुरा निवासी जसवंत व यूपी के जिला कानपुर निवासी प्रेम कुमार के रूप में हुई है। दूसरी ओर, गांव सुठानी में शनिवार को 11 गांवों की पंचायत भी हुई। इसमें ग्रामीणों ने हत्यारोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

सीवर लाइन उखाड़ने पर मिला था शव : सुठानी निवासी प्रवीण कुमार का बावल क्षेत्र की एक कंपनी में ट्रांसपोर्ट का काम था। मंगलवार देर शाम को प्रवीण बाइक पर अपने घर जा रहा था, लेकिन वह घर नहीं पहुंचा। रात करीब सवा 9 बजे परिजनों को आरोपी जसवंत ने ही फोन कर सूचना दी कि प्रवीण सीवर लाइन में गिर गया है। सूचना के बाद प्रवीण के चाचा नरेश व अन्य ग्रामीण मौके पर पहुंचे। वहां सीवरेज के खुले हिस्से (नाले) के अंदर प्रवीण की बाइक थी, जो कि सीधी खड़ी हुई थी। पास में ही प्रवीण के जूते भी नाले में ही पड़े थे। ग्रामीणों ने बाइक को बाहर निकाला तथा प्रवीण की तलाश की। सूचना के बाद कसौला थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर प्रवीण की तलाश शुरू की। रात में शव नहीं मिला तो अगले दिन 20 जून को सीवर लाइन को जेसीबी से उखाड़ा गया। करीब 15 फीट आगे प्रवीण का शव पाइप में फंसा मिला था।

पुलिस और परिजनों को गुमराह करता रहा आरोपी : आरोपी जसवंत ने वारदात को अंजाम देने के बाद परिजनों को गुमराह करना शुरू कर दिया। उसने मृतक प्रवीन के चाचा नरेश के पास फोन कर बताया कि उसके भतीजे प्रवीन का एक्सीडेंट हो गया और वह बाइक सहित सीवर में गिर गया है। एक्सीडेंट की बात सुनते ही मृतक के परिजन तुरंत मौके पर पहुंच गए। जब पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पुलिस को भी गुमराह करते हुए एक्सीडेंट होने की बात कही। पुलिस ने सख्ती की तो सीवर में गिराकर हत्या की बात सामने आई।

दोनों आरोपी गिरफ्तार, 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिए

अब सीआईए-2 धारूहेड़ा करेगी जांच, एसपी ने सौंपा केस

तीनों ने साथ पी शराब, किसी बात पर विवाद हुआ तो सीवर में फेंका

रेवाड़ी. गांव सुठानी में पंचायत करते 11 गांवो के ग्रामीण।

ज्यादा नशा होने पर गाली

गलोच से हुआ विवाद

हत्या के इस मामले की जांच कर रहे एएसआई गुरदयाल ने बताया कि आरोपी व मृतक दोनों ही ट्रांसपोर्ट का धंधा करते थे। वारदात के दिन 19 जून की रात को मृतक व आरोपियों दोनों ने शराब पी हुई थी। ज्यादा नशा होने के कारण उनके बीच गाली-गलोच हुई थी। गाली गलोच के दौरान विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया कि आरोपियों ने प्रवीन को धक्का देकर सीवर में डाल दिया और उसकी बाइक को भी ऊपर से सीवर लाइन में डाल दिया।

आगे पुलिस की कार्रवाई

सीआईए-2 देखेगी मामला : मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल ने मामले की जांच अब सीआईए-2 धारूहेड़ा को सौंप दी है। सीआईए-2 पुलिस द्वारा ही मामले में आगे की जांच कर एसपी को सौंपेंगी।

रिमांड पर दोनों आरोपी : कसौला थाना पुलिस प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि दोनों आरोपियों को शनिवार को अदालत में पेश किया, वहां से उन्हें तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। रिमांड के दौरान आरोपियों से वारदात के बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bawal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×