• Hindi News
  • Haryana
  • Bawal
  • मानसून : गांवों में रेलवे लाइन, सड़क किनारे और पंचायती जमीन पर होगा 1.50 लाख पौधों का रोपण
--Advertisement--

मानसून : गांवों में रेलवे लाइन, सड़क किनारे और पंचायती जमीन पर होगा 1.50 लाख पौधों का रोपण

मानसूनी सीजन के तहत जिले में पहली जुलाई से वन विभाग की ओर से पौधरोपण अभियान की शुरुआत कर दी जाएगी। इसके जरिए विभाग...

Dainik Bhaskar

Jun 27, 2018, 03:10 AM IST
मानसून : गांवों में रेलवे लाइन, सड़क किनारे और पंचायती जमीन पर होगा 1.50 लाख पौधों का रोपण
मानसूनी सीजन के तहत जिले में पहली जुलाई से वन विभाग की ओर से पौधरोपण अभियान की शुरुआत कर दी जाएगी। इसके जरिए विभाग की ओर से जहां लगभग 1.50 लाख पौधे सड़क किनारे, रेलवे लाइन व पंचायती जगह के साथ ही हर गांव पेड़ों की छांव के माध्यम से 4 हजार पौधों का रोपण किया जाएगा। ये पौधे जिला के 40 गांवों में लगाए जाएंगे। इसमें प्रत्येक गांव में 100 पौधों का रोपण होगा। इसके अतिरिक्त विभाग द्वारा हर घर हरियाली के तहत 50 हजार पौधे डोर-टू-डोर लगाने की तैयारी है। इन पौधों में ग्राफिक फ्रूट में अनार, नींबू, आम, अमरूद, किन्नू और मौसमी के लगाए जाएंगे।

डेढ़ लाख पौधे लगेंगे आरक्षित क्षेत्र में : वन विभाग की ओर से जिलेभर में सड़क किनारे, रेलवे लाइन, पंचायती क्षेत्र, आरक्षित वन और अरावली क्षेत्र में लगभग 1 लाख 50 हजार पौधे लगाए जाएंगे। इसके अलावा 50 हजार पौधे फ्री सप्लाई और 50 हजार एक रुपया प्रति पौधे के हिसाब से किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे। फ्री सप्लाई सरकारी शिक्षण संस्थानों में प्रदान किए जाएंगे। इसके अलावा पिछले साल लगाए गए पौधों के तहत काफी पौधे उन जगहों पर भी लगेंगे, जहां जल गए या बेसहारा पशुओं द्वारा नष्ट कर दिए गए। इनकी रिप्लेसमेंट भी हर साल 30 फीसदी तक होती है। रेवाड़ी व बावल रेंज का कार्यभार संभाल रहे वन राजिक अधिकारी संदीप यादव ने बताया कि नर्सरी खुलने का समय सुबह 8 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक हैं। नर्सरियों में इस दौरान पौधे खरीदे जा सकते हैं।

X
मानसून : गांवों में रेलवे लाइन, सड़क किनारे और पंचायती जमीन पर होगा 1.50 लाख पौधों का रोपण
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..